04 Dec 2016, 23:43 HRS IST
  • टोकियो के रंग—बिरंगे पार्क में सेल्फी के दौरान कपल
    टोकियो के रंग—बिरंगे पार्क में सेल्फी के दौरान कपल
    मिनी ​मैराथन 'भाग भोपाल भाग' का नजारा
    मिनी ​मैराथन 'भाग भोपाल भाग' का नजारा
    'हॉर्ट आफ एशिया' सम्मेलन के दौरान मोदी और गनी
    'हॉर्ट आफ एशिया' सम्मेलन के दौरान मोदी और गनी
    बार्सेलोना और रियल मेड्रिड के मैच के दौरान लियोनेल मैस्सी
    बार्सेलोना और रियल मेड्रिड के मैच के दौरान लियोनेल मैस्सी
PTI
PTI
Select
खबर
Skip Navigation Linksहोम
login
  • सबस्क्राइबर
  • यूज़र नाम
  • पासवर्ड   
  • याद रखें
ad
  • बड़ी खबर
    • previous
    • next
आतंकी ताकतों को शरण देने वालों के खिलाफ दृढ़ कार्रवाई की जरूरत — मोदी
— पीटीआई फोटो
आतंकी ताकतों को शरण देने वालों के खिलाफ दृढ़ कार्रवाई की जरूरत — मोदी — पीटीआई फोटो
  • आतंकी ताकतों को शरण देने वालों के खिलाफ दृढ़ कार्रवाई की जरूरत : मोदी
  • पीटीआई-भाषा संवाददाता   16:0 HRS IST
  • अमृतसर: पाकिस्तान को स्पष्ट संदेश देते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज सिर्फ आतंकवादी ताकतों के खिलाफ ही नहीं, बल्कि इनको सहयोग, शरण, प्रशिक्षण और वित्तीय मदद देने वालों के विरूद्ध भी ‘दृढ़ कार्रवाई’ की जरूरत का आह्वान करते हुए कहा कि चुप्पी और निष्क्रियता से आतंकवादियों एवं उनके आकाओं का हौसला बढ़ेगा।
  • खेल
  • घरेलू मैदान पर पहली बार जूनियर हाकी विश्व कप जीत सकता है भारत : कोच हरेंद्र सिंह
  • नयी दिल्ली: भारत को अपनी सरजमीं पर जूनियर हाकी विश्व कप का प्रबल दावेदार बताते हुए कोच हरेंद्र सिंह ने कहा है कि दबाव के आगे घुटने नहीं टेकने और एक ईकाई के रूप में खेलने की कला मेजबान को पोडियम तक ले जायेगी। एफआईएच जूनियर हाकी विश्व कप लखनउ में आठ से 18 दिसंबर तक खेला जायेगा जिसमें मेजबान भारत समेत 16 टीमें भाग लेंगी । भारत को कनाडा, इंग्लैंड और दक्षिण अफ्रीका के साथ पूल डी में रखा गया है।
  • अर्थ
  • उपभोग बढ़ाने के लिए सरकार को सार्वजनिक खर्च बढ़ाना चाहिए : एसोचैम
  • नयी दिल्ली: उद्योग संगठन एसोचैम का कहना है कि नोटबंदी के चलते अगली दो तिमाहियों में निजी उपभोग ‘उल्लेखनीय तौर पर प्रभावित’ होगा ऐसे में सरकार को 2016-17 के दौरान सार्वजनिक व्यय को बढ़ाने के लिए कदम उठाने चाहिए। एसोचैम ने कहा, ‘‘मौजूदा वित्त वर्ष की दूसरी तिमाही में बाजार मूल्य पर 5.15 लाख करोड़ रपये के सरकारी खर्च के मुकाबले सरकार को तीसरी और चौथी तिमाही में प्रत्येक के लिए इसे बढ़ाकर सात लाख करोड़ रपये करना चाहिए।
  • Advertisement
  • मुलाकात
  • भाषा का कोई धर्म नहीं होता
  • फीचर
  • काला धन नहीं, काली मुद्रा जरूर बाहर आएगी : विशेषज्ञ
  • किताबों से
  • अकबर के जीवन पर प्रकाश डालता एक नया उपन्यास