18 Dec 2017, 18:3 HRS IST
  • दुर्घटनावश कुएं में गिर अचेत तेंदुआ
    दुर्घटनावश कुएं में गिर अचेत तेंदुआ
    पार्वती घाटी में भारी बर्फवारी का नजारा
    पार्वती घाटी में भारी बर्फवारी का नजारा
    हमदाबाद : गुजरात चुनाव के अवसर पर मतदाताओं की भीड
    हमदाबाद : गुजरात चुनाव के अवसर पर मतदाताओं की भीड
    अहमदाबाद : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी वोट डालने के बाद
    अहमदाबाद : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी वोट डालने के बाद
PTI
PTI
Select
खबर
Skip Navigation Linksहोम मुलाकात
login
  • सबस्क्राइबर
  • यूज़र नाम
  • पासवर्ड   
  • याद रखें
ad
    • मुलाकात
    • रेटिंग   Rating Rating Rating Rating Rating
  •  
  • फिल्म ‘गुलाबगैंग’ कैरियर का अहम पड़ाव: अतुल श्रीवास्तव
  • [ - ] आकार [ + ]
  • .

    राजेश अभय :

    नयी दिल्ली, 13 मार्च :भाषा: फिल्म ‘मुन्ना भाई एमबीबीएस’, ‘लगे रहो मुन्ना भाई’, ‘भूतनाथ’ इत्यादि में अपनी भूमिकाओं से दर्शकों पर अपने अभिनय की छाप छोड़ने वाले अभिनेता अतुल श्रीवास्तव अभी हालिया रिलीज फिल्म ‘गुलाब गैंग’ को अपने कैरियर का अहम पड़ाव मानते हैं और उन्हें उम्मीद है कि एक भ्रष्ट प्रखण्ड विकास अधिकारी :बीडीओ: के रूप में उनके किरदार को दर्शकों की भरपूर सराहना मिलेगी।अतुल ने पीटीआई.भाषा को बताया, ‘‘फिल्म में अपनी भूमिका के लिए उन्हें दर्शकों से तारीफ मिल रही है।फिल्म की शुरआत में पहले विलेन के रूप में मेरा आमना सामना गुलाब गैंग की नेता रज्जो :माधुरी दीक्षित: से होता है।मैं गांव में बिजली लाने के लिए बीडीओ के बतौर गांव वाले से पैसे मांगता हूं और इसी लूट खसोट के क्रम में मेरा टकराव गुलाब गैंग नेता रज्जो से होता है।’’ माधुरी दीक्षित के साथ अभिनय के अपने अनुभव के बारे में अतुल ने कहा, ‘‘वह बहुत सधी हुई कलाकार हैं। सहजता के साथ काम करना उनकी विशेष अदा है। उनके साथ अभिनय करना काफी सीखने वाला अनुभव रहता है।’’ इस वर्ष अतुल की तीन प्रमुख फिल्में रिलीज होंगी जिनमें अप्रैल के अंत तक फिल्म ‘चल भाग’ रिलीज होगी जिसमें उनके सह कलाकार मुकेश तिवारी हैं।यह दिल्ली के दो रात की कहानी है जिसमें दोनों की ही भूमिका पुलिस कांस्टेबल की हैं।इसके अलावा अन्य सहयोगी कलाकारों में दीपक डोबरियाल, यशपाल, संजय मिश्रा और तरण बजाज हैं। फिल्म का निर्देशन प्रकाश सैनी ने किया है।लखनउ के भारतेन्दु नाट्य अकादमी से नाट्य प्रशिक्षण लेने वाले अतुल की एक और फिल्म, रविन्द्रनाथ ठाकुर की कहानी ‘डाकघर’ पर आधारित, ‘अगर, मगर, लेकिन, किन्तु, परन्तु’ आने वाली है जिसके लेखक गौतम सिद्धार्थ और फिल्म का निर्देशन प्रदीप दास ने किया है। बच्चों के लिए बनी इस फिल्म में मुख्य किरदार के बतौर अतुल की भूमिका ‘कुल्फी वाले’ की है।इसके रिलीज होने की तारीख अभी तय नहीं हुई है। प्रख्यात निर्देशक अनुराग कश्यप की फिल्म ‘बांबे वेलवेट’ में वह अभिनेता रणवीर कपूर, अनुष्का शर्मा के साथ एक अहम किरदार निभा रहे हैं। फिल्म की ज्यादातर शूटिंग श्रीलंका और कुछ बंबई और कोलकाता में हुई है। लगभग 80 प्रतिशत पूरी हो इस फिल्म के दिसंबर में रिलीज होने की संभावना है।फिल्म ‘चाहे कोई मुझे जंगली कहे’ के निर्देशक जॉनी वाकर के बेटे नासिर हैं और इसे ‘बांबे टॉकीज’ बना रहा है जो प्रोडक्शन कंपनी लगभग 40 वर्ष बाद फिर से सक्रिय हुई है। फिल्म में अतुल की भूमिका विलेन की है।उल्लेखनीय है कि प्रोडक्शन हाउस ‘बांबे टॉकीज’ में दिलीप कुमार, देवानंद सरीखे अभिनेता कभी नौकरी कर चुके हैं। इस प्रेम कहानी पर आधारित फिल्म में अतुल की भूमिका खलनायक की है जिसमें जानी लीवर की बेटी कामेडियन की भूमिका कर रही हैं।इससे पूर्व अतुल की फिल्म ‘1.40 की लास्ट लोकल’, ‘बंटी और बबली’ में भी अभिनय कर चुके हैं।इसके अलावा उन्होंने लगभग 70 धारावाहिकों में भी काम किया है जिनमें विशेषकर ‘लापतागंज’, ‘तोता वेड्स मैना’, ‘मिस्टर नितिन शर्मा इलाहाबाद वाले’, ‘सॉरी मेरी लॉरी’ प्रमुख हैं।अतुल कहते हैं कि मुंबई फिल्म उद्योग में वह एक विविधता से परिपूर्ण कलाकार के रूप में मशहूर होना चाहते हैं।संपादकीय सहयोग-अतनु दास

रेट दें
Submit
  • इस मुलाकात पर अपनी राय दें
  • अन्य मुलाकात
  •     
add