23 Jul 2018, 19:18 HRS IST
  • गुवाहाटी : नल से प्यास बुझाती बंदर जोडी
    गुवाहाटी : नल से प्यास बुझाती बंदर जोडी
    भारी बारिश के बाद संसद भवन के बाहर चारों ओर पानी ही पानी
    भारी बारिश के बाद संसद भवन के बाहर चारों ओर पानी ही पानी
    भुवनेश्वर : भारी बारिश के बाद आम जनजीवन अस्त—व्यस्त
    भुवनेश्वर : भारी बारिश के बाद आम जनजीवन अस्त—व्यस्त
    आईएएएफ एथलेटिक्स में 800मीटर दौड के विजेता बोत्सवाना के निजेल एमोस
    आईएएएफ एथलेटिक्स में 800मीटर दौड के विजेता बोत्सवाना के निजेल एमोस
PTI
PTI
Select
खबर
Skip Navigation Linksहोम मुलाकात
login
  • सबस्क्राइबर
  • यूज़र नाम
  • पासवर्ड   
  • याद रखें
ad
    • मुलाकात
    • रेटिंग   Rating Rating Rating Rating Rating
  •  
  • केजरीवाल का मूल विचार सिर्फ सत्ता : सतीश उपाध्याय
  • [ - ] आकार [ + ]
  • .

    अनवारूल हक :



    नयी दिल्ली, 16 मार्च ::भाषा: भाजपा की दिल्ली इकाई ने अंदरूनी झगड़े और स्टिंग को लेकर घिरी आम आदमी पार्टी :आप: एवं उसके नेता अरविंद केजरीवाल पर निशाना साधते हुए आज आरोप लगाया कि दिल्ली के मुख्यमंत्री का बड़ी-बड़ी बातें करना दिखावा है और उनका मूल विचार सिर्फ सत्ता हासिल करना है तथा हाल के घटनाक्रमों से दिल्ली के लोग खुद को ठगा हुए महसूस कर रहे हैं।
    दिल्ली में आप सरकार के एक महीना पूरा होने के बाद दिल्ली भाजपा के अध्यक्ष सतीश उपाध्याय ने ‘भाषा’ को दिए साक्षात्कार में कहा, ‘‘इस पार्टी :आप: के हमेशा दो चेहरे रहे हैं।अब जो यह घमासान मचा है, उससे पार्टी का दोहरा चरित्र सामने दिखाई दे रहा है। आम आदमी पार्टी और खासकर अरविंद केजरीवाल का मूल विचार सिर्फ सत्ता हासिल करना है।आंतरिक लोकतंत्र, स्वराज, शुचिता, अलग प्रकार की राजनीति और घोटाला नहीं करने जैसी बड़ी-बड़ी बातें सिर्फ कहने और दिखाने के लिए थीं।’’ उपाध्याय ने पिछले एक महीने की केजरीवाल सरकार की उपलब्धियों को ‘जीरो’ करार देते हुए कहा कि अगर आपस में झगड़े और स्टिंग जैसी चीजें चुनाव से पहले आ जातीं तो स्थिति कुछ और होती।साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि भाजपा अभी इस सरकार को 4-6 महीने का वक्त और देगी।
    उन्होंने कहा, ‘‘पहली बार होगा कि इतना बड़ा जनादेश मिलने के बाद कोई पार्टी दो फाड़ नजर आ रही है। .पार्टी के सारे प्रमुख लोग लड़ाई-झगड़े में लगे हुए हैं। स्थिति यह है कि ‘स्टिंग के मास्टरमांइड’ :केजरीवाल: का खुद स्टिंग हो गया। अविश्वास का इतना पड़ा माहौल पैदा हो गया है।अगर ये बातें चुनाव से पहले सामने आती तो लोगों को सच्चाई पता चलती और आज लोग ठगा महसूस कर रहे हैं, वो नहीं करते।’’उपाध्याय ने कहा, ‘‘एक महीने में इस सरकार की क्या उपलब्धि है? मुफ्त पानी की घोषणा कर देने से क्या होगा।..जिनके पास पानी के नल नहीं हैं, कनेक्शन नहीं हैं उनके बारे में क्या प्रावधान किया गया है? जल बोर्ड में पैसे किस तरह से प्रावधान किया गया है? इस सरकार ने बिजली और पानी की दो घोषणाओं के अलावा कुछ नहीं किया है।’’ उन्होंने कहा, ‘‘सब्सिडी कितने समय तक चलेगी। व्यवस्था में सुधार करने की जरूरत है। दिल्ली को वो मॉडल स्टेट बनाने की बात कर रहे हैं तो इसका रोडमैप क्या है? क्या सब्सिडी इसका रोडमैप है? महिला सुरक्षा, वाईफाई, परिवहन, खाद्य एवं आपूर्ति और रोजगार को लेकर भी कुछ नहीं हुआ है। इस सरकार की उपलब्धि जीरो है।’’ केजरीवाल सरकार को घेरने की भाजपा की रणनीति के बारे में पूछे जाने पर उपाध्याय ने कहा, ‘‘हम किसी जल्दबाजी में नहीं है। भाजपा ने पहले ही कहा है कि हम सरकार को सकारात्मक सहयोग देंगे। परंतु जिस तरह से चीजें हो रही है उसमें लंबे समय तक चुप नहीं बैठ सकते।.. वैसे हम इस सरकार को 4-6 महीने देना चाहते हैं।’’ उन्होंने कहा कि विधानसभा चुनाव में हार के बाद दिल्ली भाजपा ने सदस्यता अभियान बढ़ाया है और इसके बाद संगठनात्मक एवं आंदोलन संबंधी गतिविधियों का रोडपैम बनाकर आगे बढ़ेंगे।पिछले महीने हुए विधानसभा चुनाव में आप को 70 में से 67 और भाजपा को महज तीन सीटें हासिल हुई थीं।कांग्रेस का खाता भी नहीं खुल सका था।संपादकीय सहयोग-अतनु दास



रेट दें
Submit
  • इस मुलाकात पर अपनी राय दें
  • अन्य मुलाकात
  •     
add