26 Aug 2019, 00:7 HRS IST
  • सिंधू विश्व चैम्पियनशिप में स्वर्ण जीतने वाली पहली भारतीय बनीं
    सिंधू विश्व चैम्पियनशिप में स्वर्ण जीतने वाली पहली भारतीय बनीं
    सिंधू विश्व चैम्पियनशिप में स्वर्ण जीतने वाली पहली भारतीय बनीं
    सिंधू विश्व चैम्पियनशिप में स्वर्ण जीतने वाली पहली भारतीय बनीं
    मथुरा में कृष्ण जन्मभूमि भागवत भवन में उमड़े श्रद्धालु
    मथुरा में कृष्ण जन्मभूमि भागवत भवन में उमड़े श्रद्धालु
    पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह राज्यसभा सदस्य के रूप में शपथ लेते
    पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह राज्यसभा सदस्य के रूप में शपथ लेते
PTI
PTI
Select
खबर
Skip Navigation Linksहोम मुलाकात
login
  • सबस्क्राइबर
  • यूज़र नाम
  • पासवर्ड   
  • याद रखें
ad
    • मुलाकात
    • रेटिंग   Rating Rating Rating Rating Rating
  •  
  • विपक्ष का मोदी हटाओ अभियान विफल होगा, मोदी दोबारा प्रधानमंत्री बनेंगे : जयाप्रदा
  • [ - ] आकार [ + ]
  • (दीपक रंजन) नयी दिल्ली, 31 मार्च :भाषा: देश में ‘मोदी लहर’ होने का दावा करते हुए अभिनेत्री एवं भाजपा नेता जयाप्रदा ने कहा कि विपक्षी दलों के गठबंधन का कोई भविष्य नहीं है। उन्होंने कहा कि लोग मोदीजी को दोबारा प्रधानमंत्री बनाना चाहते हैं । भाजपा की जीत तय है। जयाप्रदा ने महिला सशक्तिकरण के लिये राजनीति, शिक्षा, सरकारी योजनाओं सहित अलग अलग क्षेत्रों में महिलाओं को 33 प्रतिशत आरक्षण देने की वकालत की ।
    जयाप्रदा ने ‘‘भाषा’’ से विशेष बातचीत में कहा, ‘‘ रामपुर का दो बार प्रतिनिधित्व किया है, एक बार फिर लोगों से आर्शीवाद मांग रही हूं, जीत का पूरा भरोसा है । रामपुर में मोदीजी की लहर है । लोग मोदीजी को दोबारा प्रधानमंत्री बनाना चाहते हैं । भाजपा की जीत तय है । ’’ महिला सशक्तिकरण की पुरजोर वकालत करते हुए जयाप्रदा ने कहा, ‘‘ हमेशा पुरूष प्रधान समाज में बराबरी की बात होती है लेकिन ये बाते केवल भाषणों तक ही सीमित रह जाती हैं । मैं चाहती हूं कि पढ़ी लिखी महिलाएं पृष्ठभूमि में रहने की बजाए सक्रिय राजनीति में आएं । ’’ उन्होंने कहा कि महिला सशक्तिकरण के लिये राजनीति, शिक्षा, सरकारी योजनाओं सहित अलग अलग क्षेत्रों में महिलाओं को 33 प्रतिशत आरक्षण दिया जाना चाहिए।
    रामपुर में बाहरी होने के समाजवादी पार्टी के नेताओं के आरोपों पर जयाप्रदा ने कहा, ‘‘उनके पास कोई मुद्दा नहीं है । मेरे खिलाफ अभद्र टिप्पणी करना, बाहरी होने का विषय उठाने के अलावा उन्हें कुछ नहीं सूझ रहा है।’’ जयाप्रदा ने कहा कि ' जहां तक बाहरी होने के आरोप का सवाल है तो ऐसी बातें और आरोप मुझपर चस्पा नहीं होते। मैं
    रामपुर से अलग कभी रही ही नहीं । मेरा यहां घर है, शैक्षणिक संस्थान है। " गौरतलब है कि मीडिया रिपोर्ट के अनुसार जयाप्रदा को उम्मीदवार बनाए जाने के ऐलान के बाद आजम ने कहा, ' उन्हें मेरे संसदीय क्षेत्र में बाहर से कैंडिडेट लाना पड़ रहा है।' वहीं समाजवादी पार्टी के एक अन्य नेता ने कथित तौर पर कहा था कि जयाप्रदा “रामपुर के लोगों को अपने घुंघरूओं और ठुमकों से लुभाएंगी ।
    सपा-बसपा गठबंधन पर निशाना साधते हुए जयाप्रदा ने कहा कि जो लोग कभी एक दूसरे को दुश्मन के तौर पर देखते थे... वे लोग सिर्फ नरेन्द्र मोदी को रोकने के लिये साथ आए हैं । यह गठबंधन कहां तक चलेगा, इसका क्या भविष्य है, सभी समझते हैं ।
    समाजवादी पार्टी नेता आजम खान पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा कि मायावती जी एक वरिष्ठ नेता है, उन्होंने राजनीति में अपनी एक जगह बनाई है लेकिन जो लोग बसपा प्रमुख के खिलाफ अभद्र टिप्पणी करते रहे, आज उनकी ही पार्टी के साथ गठबंधन कर रहे हैं और रामपुर में गठबंधन के उम्मीदवार बन रहे हैं । यह उनकी स्थिति को हास्यास्पद बना रही है ।
    महिला सुरक्षा को लेकर उत्तरप्रदेश की पूर्ववर्ती सपा सरकार पर निशाना साधते हुए जयाप्रदा ने कहा कि अखिलेश सरकार के समय महिला सुरक्षा की स्थिति अच्छी नहीं थी और वर्तमान योगी सरकार इस दिशा में तेजी से काम कर रही है ।
    उन्होंने कहा कि समाजवादी पार्टी आंदरूनी संकट से गुजर रही है । अखिलेश जी का अपने पिता, चाचा से संबंध जगजाहिर है । वे अपने अंदरूनी समस्याओं का समाधान निकाल नहीं पा रहे हैं तो प्रदेश और देश की समस्याओं का समाधान क्या निकाल पायेंगे ।
    उत्तरप्रदेश में प्रियंका गांधी के प्रभाव के बारे में एक सवाल के जवाब में जयाप्रदा ने कहा कि प्रियंका गांधी वाड्रा सक्रिय राजनीति में आई है, इससे पहले वे अमेठी, रायबरेली में चुनाव प्रचार करती रही है । लेकिन उनका प्रभाव नहीं है क्योंकि कांग्रेस का संगठन नहीं बचा है । वे :प्रियंका: गंगा यात्रा कर रही है, अयोध्या जा रही है लेकिन अभी मोदी जी ही सभी ओर हैं।
    उन्होंने कहा कि उन्हें उम्मीद है कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी उनके क्षेत्र रामपुर में प्रचार करने आयेंगे ।

रेट दें
Submit
  • इस मुलाकात पर अपनी राय दें
  • अन्य मुलाकात
  •     
add