16 Oct 2019, 08:36 HRS IST
  • मामल्लापुरम: भारत और चीन के बीच वार्ता का दृश्य
    मामल्लापुरम: भारत और चीन के बीच वार्ता का दृश्य
    नयी दिल्ली: केंद्रीय सूचना आयोग के 14वें वार्षिक सम्मेलन में बोलते गृह मंत्री अमित शाह
    नयी दिल्ली: केंद्रीय सूचना आयोग के 14वें वार्षिक सम्मेलन में बोलते गृह मंत्री अमित शाह
    मामल्लापुरम:चीनी राष्ट्रपति शी चिनफिंग के स्वागत में प्रस्तुति देते कलाकार
    मामल्लापुरम:चीनी राष्ट्रपति शी चिनफिंग के स्वागत में प्रस्तुति देते कलाकार
    मामल्लापुरम में सुबह का सैर करते प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी
    मामल्लापुरम में सुबह का सैर करते प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी
PTI
PTI
Select
खबर
Skip Navigation Linksहोम मुलाकात
login
  • सबस्क्राइबर
  • यूज़र नाम
  • पासवर्ड   
  • याद रखें
ad
    • मुलाकात
    • रेटिंग   Rating Rating Rating Rating Rating
  •  
  • [ - ] आकार [ + ]
  • हिमांशु सिंह
    नयी दिल्ली, 26 दिसंबर : भाषा : प्रसिद्ध टी वी अभिनेत्री रक्षंदा खान का कहना है कि रियलिटी शोज की भरमार के बीच भी बुद्धू बक्से पर पारिवारिक धारावाहिकों की जगह बनी रहेगी। उनका मानना है कि अनेक पारिवारिक धारावाहिकों को लोग आज भी देखना पसंद करते हैं इसलिये उनका वजूद बरकरार है।
    प्रसिद्ध टेलीविजन शो ‘क्यूंकि सास भी कभी बहू थी’ में तान्या विरानी ‘जस्सी जैसी कोई नहीं’ में मल्लिका सेठ का किरदार निभाकर मशहूर हुयीं रक्षंदा इन दिनों सहारा वन चैनल पर ‘झिलमिल सितारों का अांगन होगा’ में कुसुम के रूप में नज़र आ रही हैं।
    रक्षंदा ने भाषा को बताया, ‘‘मंै हमेशा से ही मानती आयी हूं कि दर्शक जो पसंद करते हैं निर्माता वही बनाते हैं। यही कारण है कि जैसे जैसे लोगों की पसंद बदलती है टीवी पर प्रसारित होने वाले कार्यक्रमों का मिजाज़ भी बदल जाता है।’’ यह पूछे जाने पर कि क्या उनको कभी अन्य टीवी कलाकारों की तरह ‘बिग बॉस’ जैसे रियलिटी शो में भाग लेने का मौका नहीं मिला? रक्षंदा ने कहा कि वह कभी नहीं चाहतीं कि उनके निजी जीवन की झलकियां लोगों को टी वी पर दिखें। उन्होंने कहा कि वह किरदार निभाना पसंद करती हैं और उनका निजी जीवन सिर्फ उनके परिजनोंे और दोस्तों के सामने ही दिखे तो बेहतर है।
    आमतौर पर टीवी धारावाहिकों में नकारात्मक भूमिकाएं निभा चुकी रक्षंदा ने बताया कि वह खुद को ‘टाइपकास्ट’ होते हुये नहीं देखना चाहती। अपने नये किरदार के बारे में उन्होंने बताया कि ‘झिलमिल सितारों का अांगन होगा’ में कुसुम एक बहादुर लड़की है जिसने अपने माता पिता की मौत के बाद कठिनाइयों का सामना किया और वह अपने छोटे भाई आकाश को स्वतंत्र बनाना चाहती है।

रेट दें
Submit
  • इस मुलाकात पर अपनी राय दें
  • अन्य मुलाकात
  •     
add