30 Aug 2014, 07:39 HRS IST
  • नवी मुम्बई : ब्राजील फुटबॉल की जर्सी में गणेश की प्रतिमा
    नवी मुम्बई : ब्राजील फुटबॉल की जर्सी में गणेश की प्रतिमा
    इटानगर : दिवांग घाटी में आई बाढ का नजारा
    इटानगर : दिवांग घाटी में आई बाढ का नजारा
    जम्मू : गणेश चतुर्थी पर कलश यात्रा में शामिल महिलायें
    जम्मू : गणेश चतुर्थी पर कलश यात्रा में शामिल महिलायें
    कोपेनहेगेन : विश्व बै​डमिंटन चैम्पियनशिप में सायना नेहबाल
    कोपेनहेगेन : विश्व बै​डमिंटन चैम्पियनशिप में सायना नेहबाल
PTI
PTI
Select
खबर
Skip Navigation Linksहोम
login
  • सबस्क्राइबर
  • यूज़र नाम
  • पासवर्ड   
  • याद रखें
ad
  • बड़ी खबर
    • previous
    • next
एयरसेल मैक्सिस सौदा मामला- सीबीआई ने मारन बंधुओं के खिलाफ आरोप पत्र दायर किया-पीटीआई फोटो
एयरसेल मैक्सिस सौदा मामला- सीबीआई ने मारन बंधुओं के खिलाफ आरोप पत्र दायर किया-पीटीआई फोटो
  • विदेश
  • ओमानी आभूषण में भारतीय कलाकार ने किया तंजौर पेटिंग का उपयोग
  • दुबई: तंजौर पेटिंग विशेषज्ञ एक भारतीय कलाकार ने पारंपरिक ओमानी आभूषण में दक्षिण भारतीय शास्त्रीय चित्रकला शैली का इस्तेमाल किया है।मस्कट के रहने वाली कविता रामकृष्ण ने अपने कामों के जरिए परंपरागत ओमानी आभूषण में सौंदर्य को जीवित कर दिया है।तंजौर पेटिंग सदियों पुरानी एक कला है।
  • खेल
  • कुक के लिये ‘जहरीला प्याला’ है वनडे की कप्तानी : स्वान
  • लंदन: इंग्लैंड के पूर्व स्पिनर ग्रीम स्वान ने एलिस्टेयर कुक के खिलाफ किसी तरह के अभियान से इन्कार किया लेकिन साथ ही कहा कि बायें हाथ के इस बल्लेबाज के लिये एकदिवसीय टीम की कप्तानी ‘जहरीला प्याला’ है।कुक और उनके पूर्व साथी स्वान के बीच शाब्दिक जंग जारी है।एकदिवसीय टीम का कप्तान होना कुक लिये जहरीला प्याला है।
  • अर्थ
  • सेबी की निगरानी व्यवस्था में मीडिया महत्वपूर्ण अंग : सेबी
  • नयी दिल्ली: भारतीय प्रतिभूति एवं विनिमय बोर्ड :सेबी: का एक बड़ा काम पूंजी बाजार में गड़बड़ी करने वालों पर निगाह रखना भी है और इस काम में उसे मीडिया से बड़ी मदद मिलती है..सेबी के कुछ अधिकारियों का काम ही है मीडिया की रपटों को बारीकी से पढ़ना, इससे संभावित अनियमितताओं के बारे में सुराग मिलते हैं।
  • Advertisement
  • मुलाकात
  • अंडमान में पर्ल कल्चर की असीम संभावना : डा. सोनकर
  • फीचर
  • कहां गए भारत के 20 रणबांकुरे, वर्षों बाद भी सुराग नहीं
  • किताबों से
  • जब सेना ने की थी गणतंत्र दिवस परेड नहीं निकालने की सिफारिश