17 Jan 2018, 15:59 HRS IST
  • बोधगया में विश्व शांति प्रार्थना में भाग लेते दलाई लामा
    बोधगया में विश्व शांति प्रार्थना में भाग लेते दलाई लामा
    एम्स के 45वें दीक्षांत समारोह में शिरकत करते राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद
    एम्स के 45वें दीक्षांत समारोह में शिरकत करते राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद
    मुंबई के अरोली क्रीक में क्रीड़ा करती हंस
    मुंबई के अरोली क्रीक में क्रीड़ा करती हंस
    गणतंत्र दिवस परेड के रिहर्सल का नजारा
    गणतंत्र दिवस परेड के रिहर्सल का नजारा
PTI
PTI
Select
खबर
Skip Navigation Linksहोम राष्ट्रीय
login
  • सबस्क्राइबर
  • यूज़र नाम
  • पासवर्ड   
  • याद रखें
ad
add
add
  • जल्लीकट्टू का आयोजन सुनिश्चित करेंगे: मुख्यमंत्री पनीरसेल्वम

  • विज्ञापन
  • [ - ] फ़ॉन्ट का आकार [ + ]
पीटीआई-भाषा संवाददाता 15:35 HRS IST

चेन्नई, 11 जनवरी :भाषा: जल्लीकट्टू के आयोजन की मांग को लेकर विभिन्न हलकों से उठ रही आवाजों के बीच तमिलनाडु के मुख्यमंत्री ओ पनीरसेल्वम ने आज सांड को काबू में करने के इस खेल के आयोजन को लेकर अपनी सरकार की प्रतिबद्धता दोहराते हुए कहा कि वह इस मुद्दे पर पीछे नहीं हटेगी।

इस मुद्दों पर अन्नाद्रमुक की आलोचना को लेकर उन्होंने चिर-प्रतिद्वंद्वी द्रमुक पर जोरदार हमला बोला। पनीरसेल्वम ने कहा कि संप्रग सरकार के समय जारी अधिसूचना में सांड को करतब दिखाने वाले जानवरों की श्रेणी में शामिल किया गया था, जिसके बाद खेलों में इसके इस्तेमाल पर रोक लग गयी। उन्होंने आरोप लगाया कि तब द्रमुक तत्कालीन सरकार की अहम सहयोगी थी। मुख्यमंत्री ने कहा कि उनकी सरकार उनकी पूर्ववर्ती दिवंगत नेता जयललिता के दिखाये रास्ते पर आगे बढ़ रही है, जिन्होंने कावेरी विवाद और खुदरा क्षेत्र में प्रत्यक्ष विदेशी निवेश जैसे मुद्दों पर तमिलनाडु के अधिकारों की लड़ाई को आगे बढ़ाया। उन्होंने कहा, ‘‘मैं और तमिलनाडु सरकार अम्मा :जयललिता: के पद चिन्हों का अनुसरण करते हैं और हम जल्लीकट्टू का आयोजन सुनिश्चित करेंगे। हम इस मुद्दे से थोड़ा भी पीछे नहीं हटेंगे। मैं तमिलनाडु के लोगों को आश्वस्त करना चाहता हूं कि हम तमिलों की विरासत और संस्कृति को बरकरार रखेंगे।’’

  • अपनी टिप्पणी पोस्ट करे ।