29 Jun 2017, 00:42 HRS IST
  • वॉशिंगटन: मीडीया के सामने साझा वक्तव्य जारी करते मोदी—ट्रंप
    वॉशिंगटन: मीडीया के सामने साझा वक्तव्य जारी करते मोदी—ट्रंप
    मुंबई: भारी बारिश के बाद पानी से भरी गली से गुजरते लोग
    मुंबई: भारी बारिश के बाद पानी से भरी गली से गुजरते लोग
    हैदराबाद: किदांबी श्रीकांत संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए
    हैदराबाद: किदांबी श्रीकांत संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए
    जम्मू : अमरनाथ तीर्थ बोर्ड द्वारा चिकित्सा शिविर का आयोजन
    जम्मू : अमरनाथ तीर्थ बोर्ड द्वारा चिकित्सा शिविर का आयोजन
PTI
PTI
Select
खबर
Skip Navigation Linksहोम राष्ट्रीय
login
  • सबस्क्राइबर
  • यूज़र नाम
  • पासवर्ड   
  • याद रखें
ad
add
add
  • जीजेएम ने संकट की घड़ी में भाजपा सांसद की गैर मौजूदगी पर सवाल उठाया

  • विज्ञापन
  • [ - ] फ़ॉन्ट का आकार [ + ]
पीटीआई-भाषा संवाददाता 12:32 HRS IST

दाजर्ििलंग :प.बंगाल: , 19 जून :भाषा: गोरखा जनमुक्ति मोर्चा :जीजेएम: ने आज केंद्र से प्रति अपनी नाराजगी जाहिर की और संकट की घड़ी में दाजर्ििलंग के भाजपा सांसद एसएस अहलूवालिया की गैर मौजूदगी पर सवाल उठाया।

दाजर्ििलंग से विधायक और जीजेएम के वरिष्ठ नेता अमर सिंह राय ने कहा, Þ Þगठबंधन साझेदार भाजपा की भूमिका बहुत ही निराशाजनक और दुर्भाग्यपूर्ण है। हमें केंद्र सरकार से कुछ सकारात्मकता की उम्मीद की थी। हमें ऐसा महसूस होता है कि केंद्र और राज्य ने हमारा इस्तेमाल मोहरे की तरह किया। Þ Þ जीजेएम भाजपा की सहयोगी है और उसी की मदद से भगवा दल ने वर्ष 2009 और वर्ष 2014 में दाजर्ििलंग लोकसभा सीट जीती।

राय ने कहा, Þ Þहम केंद्र के साथ कभी भी बैठने को तैयार हैं। राज्य के साथ शर्त यह होगी कि विश्वास बहाली के उपाय के तौर पर वे सभी बलों को वापस बुलाएं और हालात सामान्य होने दें। फिर हम बातचीत के लिए बैठेंगे जिसमें गोरखालैंड मुख्य एजेंडा होगा। Þ Þ स्थानीय भाजपा सांसद एसएस अहलूवालिया की अनुपस्थिति पर सवाल उठाते हुए राय ने कहा कि यह बहुत ही दुर्भाग्यपूर्ण है कि संकट की इस घड़ी में उन्होंने अपने निर्वाचन क्षेत्र से दूर रहने का फैसला लिया।

राय ने कहा, Þ Þकहां हैं श्रीमान अहलूवालिया? उन्हें यहां होना चाहिए था, सभी का यही मानना है। संकट की इस घड़ी में उन्हें यहां होना चाहिए था। हमें उनसे बहुत ज्यादा निराशा हुई। Þ Þ

  • अपनी टिप्पणी पोस्ट करे ।