29 Jun 2017, 00:38 HRS IST
  • वॉशिंगटन: मीडीया के सामने साझा वक्तव्य जारी करते मोदी—ट्रंप
    वॉशिंगटन: मीडीया के सामने साझा वक्तव्य जारी करते मोदी—ट्रंप
    मुंबई: भारी बारिश के बाद पानी से भरी गली से गुजरते लोग
    मुंबई: भारी बारिश के बाद पानी से भरी गली से गुजरते लोग
    हैदराबाद: किदांबी श्रीकांत संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए
    हैदराबाद: किदांबी श्रीकांत संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए
    जम्मू : अमरनाथ तीर्थ बोर्ड द्वारा चिकित्सा शिविर का आयोजन
    जम्मू : अमरनाथ तीर्थ बोर्ड द्वारा चिकित्सा शिविर का आयोजन
PTI
PTI
Select
खबर
Skip Navigation Linksहोम राष्ट्रीय
login
  • सबस्क्राइबर
  • यूज़र नाम
  • पासवर्ड   
  • याद रखें
ad
add
add
  • प. बंगाल सरकार ने मांगे 250 जवान, मिले आधे

  • विज्ञापन
  • [ - ] फ़ॉन्ट का आकार [ + ]
पीटीआई-भाषा संवाददाता 21:22 HRS IST

नयी दिल्ली 19 जून :भाषा: पश्चिम बंगाल के दाजर्ििलंग जिले में जारी अलगाववादी हिंसा से उपजे हालात पर राज्य सरकार ने केन्द्रिय गृह मंत्राालय को रिपोर्ट सौपी है जिसने शांति व्यवस्था बहाल करने में मदद करने के लिये अर्धसैनिक बल की 125 महिलाकर्मियों को रवाना है । गृह मंत्रालय के सूत्रों ने राज्य सरकार से रिपोर्ट मिलने की पुष्टि करते हुये कहा कि यह रिपोर्ट अभी मंत्रालय के विचाराधीन है। मंत्रालय के अधिकारी ने बताया कि केन्द्रीय गृह सचिव राजीव महर्ष िने पश्चिम बंगाल के मुख्य सचिव से भी इस मामले में बात की है। मुख्य सचिव ने अर्धसैनिक बल की महिलाकर्मियों की दो कंपनी :250 जवान: भेजने की मांग की थी। मंत्रालय ने महिलाकिर्मयों की एक कंपनी हिंसा प्रभावित इलाके में भेज दी है।

इससे पहले गृह मंत्रालय ने अर्धसैनिक बल के 400 जवान दाजर्ििलंग जिले में भेजने के फैसले को राज्य सरकार की रिपोर्ट नहीं मिलने के आधार पर स्थगित कर दिया है। दाजर्ििलंग जिले में पृथक राज्य की मांग को लेकर गोरखा जनमुक्ति मोर्चा के आंदोलन के कारण उपजी हिंसा को काबू में करने और इलाके में शांति एवं कानून व्यवस्था कायम करने में राज्य सरकार की मदद करने के लिये गृह मंत्रालय द्वारा अर्धसैनिक बल की 10 कंपिनयां :1250 जवान: पहले से ही वहां मौजूद हैं।

  • अपनी टिप्पणी पोस्ट करे ।