17 Jan 2018, 16:18 HRS IST
  • बोधगया में विश्व शांति प्रार्थना में भाग लेते दलाई लामा
    बोधगया में विश्व शांति प्रार्थना में भाग लेते दलाई लामा
    एम्स के 45वें दीक्षांत समारोह में शिरकत करते राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद
    एम्स के 45वें दीक्षांत समारोह में शिरकत करते राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद
    मुंबई के अरोली क्रीक में क्रीड़ा करती हंस
    मुंबई के अरोली क्रीक में क्रीड़ा करती हंस
    गणतंत्र दिवस परेड के रिहर्सल का नजारा
    गणतंत्र दिवस परेड के रिहर्सल का नजारा
PTI
PTI
Select
खबर
Skip Navigation Linksहोम खेल
login
  • सबस्क्राइबर
  • यूज़र नाम
  • पासवर्ड   
  • याद रखें
ad
add
add
  • मैने कभी नहीं सोचा था कि इतने विम्बलडन खिताब जीतूंगा : फेडरर

  • विज्ञापन
  • [ - ] फ़ॉन्ट का आकार [ + ]
पीटीआई-भाषा संवाददाता 13:7 HRS IST

लंदन, 17 जुलाई : एएफपी : रोजर फेडरर ने स्वीकार किया कि उन्होंने कभी सोचा भी नहीं था कि वह आठ बार विम्बलडन खिताब जीतेंगे और यदि उनसे कोई कहता कि 2017 में वह दो ग्रैंडस्लैम जीतेंगे तो वह इस पर ठहाका लगाते ।

तीन सप्ताह बाद 36 बरस के होने जा रहे फेडरर ने पीट सम्प्रास का रिकार्ड तोड़कर आठवां विम्बलडन खिताब जीता । उन्होंने फाइनल में मारिन सिलिच को 6 . 3, 6 . 1, 6 . 4 से मात दी ।

सोलह साल पहले फेडरर ने सम्प्रास को हराकर विम्बलडन जीता था । अब 19 ग्रैंडस्लैम फेडरर के नाम है जबकि रफेल नडाल उनसे चार खिताब पीछे है ।

फेडरर ने कहा ,‘‘पीट को हराने के बाद मैने कभी सोचा भी नहीं था कि मैं इतना कामयाब होऊंगा । मुझे लगा था कि कभी विम्बलडन फाइनल तक पहुंचूंगा और जीतने का कोई मौका मिलेगा। कभी सेाचा नहीं था कि आठ खिताब अपने नाम करूंगा । इसके लिये या तो आप अपार प्रतिभाशाली हों या माता पिता और कोच तीन बरस की उम्र से आपको कोर्ट पर तैयार करने में लग जाये । मैं उन बच्चों में से नहीं था । ’’ उन्होंने कहा ,‘‘ मुझे पता था कि मैं एक बार फिर खिताब जीतूंगा पर इस स्तर पर कभी नहीं सोचा था । यदि मुझसे कोई कहता कि मैं इस साल दो ग्रैंडस्लैम जीतूंगा तो मैं हंस देता । ’’ एएफपी मोना सुधीर लंदन खेल2 0717 1312 लंदन 005520170717130109

  • अपनी टिप्पणी पोस्ट करे ।