17 Oct 2017, 13:5 HRS IST
  • कोलकाता : काली की प्रतिमा को अंतिम रुप देता कलाकार
    कोलकाता : काली की प्रतिमा को अंतिम रुप देता कलाकार
    कोलकाता : दिवाली महोत्सव के लिए मिष्टान तैयार करते हलवाई
    कोलकाता : दिवाली महोत्सव के लिए मिष्टान तैयार करते हलवाई
    नई दिल्ली : रैंप पर मचलती माड्ल्स के रंगीन नजारा
    नई दिल्ली : रैंप पर मचलती माड्ल्स के रंगीन नजारा
    दक्षिण कोरियाई वायुसेना का एरोबेटिक कौशल दर्शाता तस्वीर
    दक्षिण कोरियाई वायुसेना का एरोबेटिक कौशल दर्शाता तस्वीर
PTI
PTI
Select
खबर
Skip Navigation Linksहोम अर्थ
login
  • सबस्क्राइबर
  • यूज़र नाम
  • पासवर्ड   
  • याद रखें
ad
add
add
  • गोयल का सौर उपकरणों पर 5 प्रतिशत जीएसटी के पुनर्विचार से इनकार

  • विज्ञापन
  • [ - ] फ़ॉन्ट का आकार [ + ]
पीटीआई-भाषा संवाददाता 13:22 HRS IST

मुंबई, 13 अगस्त (भाषा) सौर उपकरणों पर पांच प्रतिशत माल एवं सेवा कर :जीएसटी: दर को लेकर स्थिति स्पष्ट नहीं होने की खबरों के बीच केंद्रीय बिजली मंत्री पीयूष गोयल ने इसपर पुनर्विचार से इनकार कर दिया है। उन्होंने कहा कि इस मामले में किसी तरह का असमंजस नहीं है और सरकार का रुख पूरी तरह साफ है।

गोयल ने पीटीआई भाषा से कहा, ‘‘इस मामले पर अस्पष्टता का कोई सवाल नहीं है। यह पूरी तरह स्पष्ट कर दिया गया है कि सौर उपकरणों पर पांच प्रतिशत जीएसटी लगाया जाएगा। यदि उपकरण विनिर्माताओं का अभी भी कोई मुद्दा है तो हम कुछ नहीं कर सकते।’’ उद्योग का दावा है, सरकार ने कहा है कि सौर मॉड्यूल्स पर रियायती पांच प्रतिशत की जीएसटी दर लगेगी। इसके बावजूद यह साफ नहीं है कि अन्य उपकरणों के लिए भी यही स्थिति होगी या नहीं।

गोयल ने कहा, ‘‘माल एवं सेवा कर प्रणाली में अधिक स्पष्टता और पारदर्शिता लाने के लिए लाया गया है। मेरा मानना है कि इस पर हमारा रुख पूरी तरह स्पष्ट है।’’ गोयल ने आगे कहा कि 2020 तक सौर क्षमता को बढ़ाकर 100 गीगावाट करने की महत्वाकांक्षी योजना और सौर उत्पादों को प्रोत्साहन से लघु एवं मझोले उद्योगों को फायदा होगा। मंत्री ने कहा कि हमने 2022 तक 40,000 मेगावाट रूफटॉप सौर क्षमता का लक्ष्य रखा है। लघु एवं मझोले उपक्रम इसका फायदा ले सकते हैं।

  • अपनी टिप्पणी पोस्ट करे ।