23 Jul 2018, 19:13 HRS IST
  • गुवाहाटी : नल से प्यास बुझाती बंदर जोडी
    गुवाहाटी : नल से प्यास बुझाती बंदर जोडी
    भारी बारिश के बाद संसद भवन के बाहर चारों ओर पानी ही पानी
    भारी बारिश के बाद संसद भवन के बाहर चारों ओर पानी ही पानी
    भुवनेश्वर : भारी बारिश के बाद आम जनजीवन अस्त—व्यस्त
    भुवनेश्वर : भारी बारिश के बाद आम जनजीवन अस्त—व्यस्त
    आईएएएफ एथलेटिक्स में 800मीटर दौड के विजेता बोत्सवाना के निजेल एमोस
    आईएएएफ एथलेटिक्स में 800मीटर दौड के विजेता बोत्सवाना के निजेल एमोस
PTI
PTI
Select
खबर
Skip Navigation Linksहोम खेल
login
  • सबस्क्राइबर
  • यूज़र नाम
  • पासवर्ड   
  • याद रखें
ad
add
add
  • निराशाजनक रही बोल्ट की विदाई

  • विज्ञापन
  • [ - ] फ़ॉन्ट का आकार [ + ]
पीटीआई-भाषा संवाददाता 13:26 HRS IST

लंदन, 13 अगस्त (भाषा) उसेन लियो बोल्ट के लिये ट्रैक एवं फील्ड स्पर्धा के इतिहास में अपने दशक भरे दबदबे का अंत अच्छा नहीं रहा क्योंकि वह मांसपेशियों में खिंचाव के कारण यहां चल रही विश्व एथलेटिक्स चैम्पियनशिप की पुरूष चार गुणा 100 मीटर रेस को समाप्त नहीं कर सके।

यह उनकी अंतिम विश्व चैम्पियनशिप की आखिरी स्पर्धा थी और उनसे स्वर्णिम विदाई की उम्मीद की जा रही थी लेकिन मांसपेशियों में खिंचाव ने सभी की उम्मीदों पर पानी फेर दिया।

अपने करियर की अंतिम रेस में 30 वर्षीय बोल्ट ने जमैकाई साथी योहान ब्लेक से बेटन ली लेकिन तभी उनकी मांसपेशियों में खिंचाव आ गया। उन्होंने कोशिश की लेकिन सब व्यर्थ गया क्योंकि वह रेस की अंतिम लैप में ब्रिटिश और अमेरिकी प्रतिद्वंद्वियों का पीछा नहीं कर सके।

बोल्ट ने लंबे कदम बढ़ाने शुरू किये लेकिन वह अपनी चिर परिचित रफ्तार नहीं ला सके और लड़खड़ाकर कुछ कदम आगे बढ़ते हुए गिर गये, वह दर्द से कराह रहे थे।

जमैका टीम के डाक्टर केविन जोंस ने बाद में कहा, ‘‘उनकी बायीं हैमस्ट्रिंग की मांसपेशियों में खिंचाव आ गया है लेकिन उन्हें सबसे ज्यादा दर्द रेस हारने की निराशा से है। पिछले तीन हफ्ते उनके लिये काफी कठिन रहे हैं। ’’ ओलंपिक स्टेडियम में यह दृश्य काफी दुखद था, जहां उन्होंने 2012 ओलंपिक खेलों में तीन स्वर्ण पदक अपने नाम किये थे। बोल्ट निराशा में घुटने के बल बैठ गये और अपना सिर उन्होंने अपने हाथों में रख दिया। वह काफी देर तक अकेले ट्रैक पर ऐसे ही बैठे रहे और ब्लेक व टीम के अन्य साथियों जूलियन फोर्टे और ओमर मैकलियोड ने उन्हें घेर लिया।

जमैका के इस लंबी कद काठी का एथलीट को मदद करके उठाया गया लेकिन वह फिनिशिंग लाइन पर लड़खड़े रहे थे। दर्शकों ने तालियां बजाकर उसका प्रोत्साहन किया।

परिणाम के बोर्ड पर हालांकि जमैका टीम के आगे डीएनएफ (रेस पूरी नहीं की) दिख रहा था।

जारी

  • अपनी टिप्पणी पोस्ट करे ।