22 Sep 2017, 09:51 HRS IST
  • मुंबई : एक कार्यक्रम में वॉलीवुड अभिनेत्री अनुष्का शर्मा
    मुंबई : एक कार्यक्रम में वॉलीवुड अभिनेत्री अनुष्का शर्मा
    कोलकाता : दुर्गा प्रतिमा को नाव पर ले जाते हुए
    कोलकाता : दुर्गा प्रतिमा को नाव पर ले जाते हुए
    कोलकाता : भारतीय कप्तान विराट कोहली शॉट खेलते हुए
    कोलकाता : भारतीय कप्तान विराट कोहली शॉट खेलते हुए
    जयपुर में नवरात्रि महोत्सव का नजारा
    जयपुर में नवरात्रि महोत्सव का नजारा
PTI
PTI
Select
खबर
Skip Navigation Linksहोम राष्ट्रीय
login
  • सबस्क्राइबर
  • यूज़र नाम
  • पासवर्ड   
  • याद रखें
ad
add
add
  • भागलपुर में सृजन घोटाले को लेकर दायर जनहित याचिका को पटना उच्च न्यायालय ने खारिज किया

  • विज्ञापन
  • [ - ] फ़ॉन्ट का आकार [ + ]
पीटीआई-भाषा संवाददाता 14:30 HRS IST

पटना, 13 सितंबर (भाषा) पटना उच्च न्यायालय ने भागलपुर जिले में करोड़ों रुपये की सरकारी राशि के गबन से जुड़े सृजन घोटाले को लेकर दायर एक जनहित याचिका को आज खारिज कर दिया।

मुख्य न्यायाधीश राजेंद्र मेनन और न्यायमूर्ति ए. के. उपाध्याय की खंडपीठ ने संक्षिप्त सुनवायी के बाद आज उक्त जनहित याचिका को खारिज कर दिया।

दिवाकर यादव नामक एक व्यक्ति की ओर से दायर इस जनहित याचिका में उक्त घोटाले की सीबीआई जांच की मांग गयी थी। सुनवायी के दौरान महाधिवक्ता ललित किशोर ने अदालत को बताया कि राज्य सरकार पहले ही इस मामले की जांच सीबीआई को सौंप दी है और जांच प्रगति पर है। इस दलील पर खंडपीठ ने याचिका की संक्षिप्त सुनवायी के बाद उसे खारिज कर दिया।

भागलपुर जिला में सरकारी खातों से जालसाजी एवं षडयंत्रपूर्ण तरीके से करीब 900 करोड़ रुपये की राशि का अवैध हस्तांतरण सृजन महिला सहयोग समिति नामक संस्था को किए जाने का मामला नौ अगस्त को सामने आने के बाद राज्य सरकार ने इसकी सीबीआई जांच की अनुशंसा की थी।

राजद अध्यक्ष लालू प्रसाद ने आरोप लगाया है कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी को इस घोटाले की पहले से जानकारी थी। आरोप लगाते हुए उन्होंने दोनों से इस्तीफा देने तथा इसकी जांच उच्चतम न्यायालय की निगरानी में कराने की मांग की है।

  • अपनी टिप्पणी पोस्ट करे ।