17 Jan 2018, 16:30 HRS IST
  • बोधगया में विश्व शांति प्रार्थना में भाग लेते दलाई लामा
    बोधगया में विश्व शांति प्रार्थना में भाग लेते दलाई लामा
    एम्स के 45वें दीक्षांत समारोह में शिरकत करते राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद
    एम्स के 45वें दीक्षांत समारोह में शिरकत करते राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद
    मुंबई के अरोली क्रीक में क्रीड़ा करती हंस
    मुंबई के अरोली क्रीक में क्रीड़ा करती हंस
    गणतंत्र दिवस परेड के रिहर्सल का नजारा
    गणतंत्र दिवस परेड के रिहर्सल का नजारा
PTI
PTI
Select
खबर
Skip Navigation Linksहोम विदेश
login
  • सबस्क्राइबर
  • यूज़र नाम
  • पासवर्ड   
  • याद रखें
ad
add
add
  • एच1बी वीजा का गलत इस्तेमाल ना होना सुनिश्चित करें अमेरिकी सांसद : रो खन्ना

  • विज्ञापन
  • [ - ] फ़ॉन्ट का आकार [ + ]
पीटीआई-भाषा संवाददाता 14:36 HRS IST

(ललित के झा) वाशिंगटन, 14 सितंबर (भाषा) भारतीय मूल के एक शीर्ष अमेरिकी सांसद ने कहा कि अमेरिकी सांसद यह सुनिश्चित करें कि भारतीय पेशेवरों में लोकप्रिय एच1बी वीजा कार्यक्रम का दुरुपयोग अमेरिका में नौकरियों में कटौती लाने तथा सबसे अच्छे एवं प्रतिभावान व्यक्ति को देश में आकर्षित करने से रोकने में ना किया जाए।

एच1बी वीजा अप्रवासियों को दिया जाने वाला वीजा है जिसके तहत अमेरिकी कंपनियां विशिष्ट पेशे में विदेशी कर्मचारियों को नौकरी पर रख सकती हैं। इस वीजा का ज्यादातर लाभ भारतीय आईटी पेशेवर उठाते हैं।

प्रतिनिधि सभा में सिलिकॉन वैली का प्रतिनिधित्व करने वाले सांसद रो खन्ना ने कहा, ‘‘एच1बी वीजा पर आने वाले कई लोग हैं जो अब बड़ी प्रौद्योगिकी कंपनियों का नेतृत्व कर रहे हैं। वे नौकरियां पैदा कर रहे हैं और नई खोज कर रहे हैं। हम यह सुनिश्चित करना चाहते हैं कि प्रतिभाएं अमेरिका आए क्योंकि जब आप अध्ययनों पर ध्यान देते हो तो हम जानते हैं कि ज्यादातर एच1बी वीजा धारक नौकरियां पैदा कर रहे हैं। वे नौकरियां लेने वाले नहीं हैं।’’ वह एक शीर्ष अमेरिकी थिंक टैंक साउथ एशिया सेंटर ऑफ अटलांटिक काउंसिल द्वारा आयोजित एक कार्यक्रम में बोल रहे थे।

इस संबंध में अमेरिकी कांग्रेस की प्रतिनिधि सभा और सीनेट में कई प्रस्तावित विधेयक लंबित हैं। खन्ना ने खुद इनमें से एक विधेयक का प्रस्ताव रखा है।

खन्ना ने कहा, ‘‘इसका सार यह है कि हम यह सुनिश्चित करना चाहते हैं कि प्रतिभावान लोग आते रहे और एच1बी वीजा धारकों को उच्च वेतन दिया जाए ताकि अमेरिकी बाजार में उनकी कमी ना हो और लोग एच1बी वीजा धारकों को गलत ना समझें। वे इसे ऐसा कार्यक्रम मानते हैं जिससे अमेरिका में नौकरियां पैदा करने के लिए यहां सबसे अच्छे और प्रतिभावान व्यक्ति के आने में मदद मिलें।’’ एक सवाल के जवाब में खन्ना ने कहा कि जाहिर तौर पर राष्ट्रीयता या नस्ल या धर्म के आधार पर किसी भी कंपनी को निशाना बनाना गैरकानूनी होगा।

  • अपनी टिप्पणी पोस्ट करे ।
  • इस खण्ड में