20 Sep 2018, 21:59 HRS IST
  • जन सहयोग से चार साल में पिछले 60 वर्ष से ज्यादा सफाई हुई
    जन सहयोग से चार साल में पिछले 60 वर्ष से ज्यादा सफाई हुई
    शिक्षा का माध्यम अंग्रेजी होने से बच्चों में आत्मविश्वास की कमी
    शिक्षा का माध्यम अंग्रेजी होने से बच्चों में आत्मविश्वास की कमी
    ‘बड़ी आंधी’ महसूस कर सरकार के खिलाफ झूठ फैलाने, दुष्प्रचार करने में जुटा विपक्ष : मोदी
    ‘बड़ी आंधी’ महसूस कर सरकार के खिलाफ झूठ फैलाने, दुष्प्रचार करने में जुटा विपक्ष : मोदी
    2019 में जीत के बाद 50 साल तक पार्टी को कोई हराने वाला नहीं होगा :शाह
    2019 में जीत के बाद 50 साल तक पार्टी को कोई हराने वाला नहीं होगा :शाह
PTI
PTI
Select
खबर
Skip Navigation Linksहोम खेल
login
  • सबस्क्राइबर
  • यूज़र नाम
  • पासवर्ड   
  • याद रखें
ad
add
add
  • बेहतर प्रदर्शन और श्रृंखला जीतने के इरादे से निर्णायक मुकाबले में उतरेगा भारत

  • विज्ञापन
  • [ - ] फ़ॉन्ट का आकार [ + ]
पीटीआई-भाषा संवाददाता 13:16 HRS IST

हैदराबाद, 12 अक्तूबर ( भाषा ) पिछले मैच में मिली हार के बाद भारतीय टीम कल आस्ट्रेलिया के खिलाफ निर्णायक तीसरे और आखिरी टी20 क्रिकेट मैच में अपनी गलतियों से सबक लेकर श्रृंखला जीतने के इरादे से उतरेगी ।

वनडे श्रृंखला में आस्ट्रेलिया पर धमाकेदार जीत के बाद भारत ने रांची में पहला टी20 मैच भी नौ विकेट से जीता लेकिन गुवाहाटी में उसे पराजय झेलनी पड़ी ।

आस्ट्रेलिया के खिलाफ हालिया सफलता के बावजूद कप्तान विराट कोहली ने कहा है कि उसे हराना हमेशा कठिन होता है । गुवाहाटी में आठ विकेटसे जीत के बाद आस्ट्रेलिया निर्णायक मैच में बुलंद हौसलों के साथ उतरेगा ।

भारत बारसापारा स्टेडियम में खेल के हर विभाग में उन्नीस साबित हुआ । आस्ट्रेलिया के नये तेज गेंदबाज जासन बेहरेंडोर्फ के सामने भारत का मजबूत बल्लेबाजी क्रम टिक नहीं सका । कप्तान कोहली खाता भी नहीं खोल सके और बाकी बल्लेबाजों का भी उल्लेखनीय योगदान नहीं रहा । अब वे अपनी गलतियों से सबक लेकर उतरेंगे ।

गुवाहाटी में भारत के स्ट्राइक गेंदबाजों का प्रदर्शन अच्छा रहा लेकिन स्पिनर युजवेंद्र चहल और कुलदीप यादव की मोइजेस हेनरिक्स और ट्रेविस हेड ने जमकर धुनाई की । दोनों ने निर्णायक 109 रन की साझेदारी की ।

यादव ने या तो बहुत शार्ट गेंदें डाली या फुल गेंद फेंकी और बल्लेबाजों को उसे भांपने में कोई दिक्कत नहीं हुई । इसके अलावा ओस की भूमिका भी अहम रही क्योंकि आस्ट्रेलियाई पारी में गेंद अधिक टर्न नहीं ले रही थी ।

जारी

  • अपनी टिप्पणी पोस्ट करे ।