19 Oct 2018, 02:47 HRS IST
  • कोलकाता: दुर्गा पूजा पंडाल में पूजा करते श्रद्धालु
    कोलकाता: दुर्गा पूजा पंडाल में पूजा करते श्रद्धालु
    महानवमी पर विंध्याचल धाम में  हवन करते भक्तगण
    महानवमी पर विंध्याचल धाम में हवन करते भक्तगण
    रांची: महानवमी के अवसर पर पूजन का दृश्य
    रांची: महानवमी के अवसर पर पूजन का दृश्य
    कोलकाता: दुर्गा पूजा पंडाल का मनमोहक दृश्य
    कोलकाता: दुर्गा पूजा पंडाल का मनमोहक दृश्य
PTI
PTI
Select
खबर
Skip Navigation Linksहोम विदेश
login
  • सबस्क्राइबर
  • यूज़र नाम
  • पासवर्ड   
  • याद रखें
ad
add
add
  • संरा महासचिव ने सू ची से कहा, रोहिंग्या शरणार्थियों को लौटने की अनुमति दें

  • विज्ञापन
  • [ - ] फ़ॉन्ट का आकार [ + ]
पीटीआई-भाषा संवाददाता 18:6 HRS IST

(मानस प्रतिम भुइयां) :शीर्षक में सुधार के साथ रिपीट: मनीला, 14 नवंबर (भाषा) संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंतोनियो गुतारेस ने आज म्यामां की नेता आंग सान सू ची से मुलाकात की और उनसे अनुरोध किया कि वह हजारों मुस्लिम शरणार्थियों की गरिमामय वापसी सुनिश्चित करने के लिए कदम उठाएं। दरअसल, ये लोग अपने खिलाफ हिंसा होने पर बांग्लादेश पलायन कर गए हैं।

इससे अलग, यहां आसियान शिखर सम्मेलन से इतर अमेरिकी विदेश मंत्री रेक्स टिलरसन ने भी सू ची से मुलाकात की और राखाइन प्रांत में मानवीय संकट पर चर्चा की।

म्यामां की ‘स्टेट काउसंलर’ के साथ अपनी बैठक में संरा महासचिव ने विस्थापित मुसलमानों की वापसी की इजाजत देने की जरूरत का जिक्र किया, जो पड़ोसी देश बांग्लादेश भाग गए हैं।

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के बीच कल हुई एक बैठक में भी रोहिंग्या मुद्दा का जिक्र हुआ। संयुक्त राष्ट्र ने एक बयान में कहा है कि महासचिव और स्टेट काउंसलर ने राखाइन प्रांत की स्थिति के बारे में चर्चा की। महासचिव ने इस बात का जिक्र किया कि मानवीय सहायता, सुरक्षित, गरिमामय और स्वैच्छिक वापसी तथा समुदायों के बीच वास्तविक सुलह सुनिश्चित करने के लिए पुरजोर कोशिशें की जाने की जरूरत है।

गौरतलब है कि बड़े पैमाने पर हिंसा के बाद अगस्त से छह लाख से अधिक रोहिंग्या शरणार्थी म्यामां के बौद्ध धर्म बहुल राखाइन प्रांत से बांग्लादेश पलायन कर गए हैं।

गुतारेस ने आसियान -संरा बैठक में भी रोहिंग्या मुद्दे को उठाया। उन्होंने कहा कि इस लंबी त्रासदी में और क्षेत्र में अस्थिरता के संभावित स्रोत में चिंताजनक वृद्धि हुई है। फिलीपीन के राष्ट्रपति कार्यालय के प्रवक्ता हैरी रोक के मुताबिक आसियान सम्म्मेलन में रोहिंग्या मुद्दा उठा। उन्होंने संवाददाता सम्मेलन में कहा , ‘‘म्यामां ने खासतौर पर कहा कि वह कोफी अन्नान रिपोर्ट पर गौर करने की प्रक्रिया में जुटा हुआ है। ’’ संकट के हल के लिए पूर्व संरा प्रमुख अन्नान की रिपोर्ट में शरणार्थियों की नागरिकता के सत्यापन और अधिकार एवं समानता को सुनिश्चित करने की सिलसिलेवार सिफारिश की गई है।

  • अपनी टिप्पणी पोस्ट करे ।