22 Sep 2018, 18:42 HRS IST
  • जन सहयोग से चार साल में पिछले 60 वर्ष से ज्यादा सफाई हुई
    जन सहयोग से चार साल में पिछले 60 वर्ष से ज्यादा सफाई हुई
    शिक्षा का माध्यम अंग्रेजी होने से बच्चों में आत्मविश्वास की कमी
    शिक्षा का माध्यम अंग्रेजी होने से बच्चों में आत्मविश्वास की कमी
    ‘बड़ी आंधी’ महसूस कर सरकार के खिलाफ झूठ फैलाने, दुष्प्रचार करने में जुटा विपक्ष : मोदी
    ‘बड़ी आंधी’ महसूस कर सरकार के खिलाफ झूठ फैलाने, दुष्प्रचार करने में जुटा विपक्ष : मोदी
    2019 में जीत के बाद 50 साल तक पार्टी को कोई हराने वाला नहीं होगा :शाह
    2019 में जीत के बाद 50 साल तक पार्टी को कोई हराने वाला नहीं होगा :शाह
PTI
PTI
Select
खबर
Skip Navigation Linksहोम अर्थ
login
  • सबस्क्राइबर
  • यूज़र नाम
  • पासवर्ड   
  • याद रखें
ad
add
add
  • केकेएस बंदरगाह को विकसित करने के लिए भारत की लंका को 4.52 करोड़ डॉलर की मदद

  • विज्ञापन
  • [ - ] फ़ॉन्ट का आकार [ + ]
पीटीआई-भाषा संवाददाता 14:41 HRS IST

कोलंबो, 12 जनवरी (भाषा) भारत ने उत्तरी श्रीलंका के कंकेसनतुरै (केकेएस) बंदरगाह को विकसित कर वाणिज्यिक बंदरगाह का स्वरूप देने में और श्रीलंका को क्षेत्रीय समुद्री परिवहन केंद्र के रूप में उभरने के उसके को मजबूत करने के लिए 4.527 करोड़ डॉलर की नई वित्तीय सहायता दी है। श्रीलंका में भारत के उच्चायुक्त ने बताया कि इस संबंध में 10 जनवरी को श्रीलंका के वित्त मंत्रालय और भारत के निर्यात आयात बैंक (एक्जिम बैंक) की ओर से करार पर हस्ताक्षार किए गए।

बयान में कहा गया है, "कंकेसनतुरै (केकेएस) बंदरगाह के उन्नतिकरण के लिए 4.54 करोड़ डॉलर की भारतीय वित्तीय सहायता प्राप्त करने के लिए 10 जनवरी को नई दिल्ली में करार पर हस्ताक्षर किए गए। करार पर भारत के निर्यात-आयात बैंक के प्रबंध निदेशक डेविड रस्किन्हा और वित्त मंत्रालय के सचिव आरएचएस समारातुंगा ने हस्ताक्षर किए।" यह परियोजना केकेएस बंदरगाह को एक पूर्ण वाणिज्यिक बंदरगाह बनाएगा और श्रीलंका के एक क्षेत्रीय समुद्री केंद्र बनने के प्रयासों को और मजबूत करेगा।

  • अपनी टिप्पणी पोस्ट करे ।
  • इस खण्ड में