18 Jun 2018, 16:41 HRS IST
  • वृद्धि दर को दस प्रतिशत के पार पहुंचाना चुनौती, महत्वपूर्ण कदम उठाने होंगे: मोदी
    वृद्धि दर को दस प्रतिशत के पार पहुंचाना चुनौती, महत्वपूर्ण कदम उठाने होंगे: मोदी
    सुषमा ने अंतर ब्रिक्स सहयोग को मजबूत करने की दिशा में भारत के योगदान की इच्छा जताई
    सुषमा ने अंतर ब्रिक्स सहयोग को मजबूत करने की दिशा में भारत के योगदान की इच्छा जताई
    कश्मीर में चिंताजनक रूप से बढ़ी है आतंकवादी समूहों में स्थानीय लोगों की भर्ती : सुरक्षा एजेंसियां
    कश्मीर में चिंताजनक रूप से बढ़ी है आतंकवादी समूहों में स्थानीय लोगों की भर्ती : सुरक्षा एजेंसियां
    भारत, सिंगापुर आर्थिक, रक्षा संबंधों को और मजबूत बनाने पर सहमत
    भारत, सिंगापुर आर्थिक, रक्षा संबंधों को और मजबूत बनाने पर सहमत
PTI
PTI
Select
खबर
Skip Navigation Linksहोम राष्ट्रीय
login
  • सबस्क्राइबर
  • यूज़र नाम
  • पासवर्ड   
  • याद रखें
ad
add
add
  • सुकमा में तीन नक्सली गिरफतार

  • विज्ञापन
  • [ - ] फ़ॉन्ट का आकार [ + ]
पीटीआई-भाषा संवाददाता 22:11 HRS IST

रायपुर, 12 जनवरी (भाषा) छत्तीसगढ़ के नक्सल प्रभावित सुकमा जिले में पुलिस दल ने तीन नक्सलियों को गिरफ्तार कर लिया है।

सुकमा जिले के पुलिस ​अधिकारियों ने आज ‘भाषा’ को दूरभाष पर बताया कि जिले के चिंतागुफा, चिंतलनार और पोलमपल्ली थाना क्षेत्र में पुलिस ने एक नक्सली सोढ़ी प्रकाश (35) को गिरफ्तार कर लिया है। वहीं किस्टाराम थाना क्षेत्र में दो नक्सलियों पेड़कम रमेश (19) और बुददलु पुल्ला (40) को गिरफ्तार किया गया है।

पुलिस अधिकारियों ने बताया कि आज चिंतागुफा, चिंतलनार और पोलमपल्ली थाना क्षेत्र से सीआरपीएफ, डीआरजी और जिला बल के दल को गश्त के लिए रवाना किया गया था। दल ने घेराबंदी करके करीगुंडम जनताना सरकार अध्यक्ष सोढ़ी प्रकाश को गिरफ्तार कर लिया।

अधिकारियों ने बताया कि प्रकाश के खिलाफ पुलिस दल पर गोलीबारी करने, डकैती करने, हत्या का प्रयास करने और अपहरण करने जैसे मामले दर्ज हैं। पुलिस ने इससे एक बंदूक बरामद की है।

उन्होंने बताया कि पुलिस ने किस्टाराम थाना क्षेत्र से भी दो नक्सलियों रमेश और पुल्ला को गिरफतार किया है। दोनों नक्सली जनमिलिशिया सदस्य हैं। दोनों के खिलाफ पिछले वर्ष 29 नवंबर को बारूदी सुरंग में विस्फोट करने की घटना में शामिल होने का आरोप है। इस घटना में एक जवान घायल हुआ था। इसके अलावा इन पर 12 नवंबर और चार दिसंबर को बारूदी सुरंग में विस्फोट करने की घटनाओं में भी शामिल होने का आरोप है। इन घटनाओं में एक-एक ग्रामीण की मौत हुई थी।

  • अपनी टिप्पणी पोस्ट करे ।