21 Sep 2018, 04:27 HRS IST
  • जन सहयोग से चार साल में पिछले 60 वर्ष से ज्यादा सफाई हुई
    जन सहयोग से चार साल में पिछले 60 वर्ष से ज्यादा सफाई हुई
    शिक्षा का माध्यम अंग्रेजी होने से बच्चों में आत्मविश्वास की कमी
    शिक्षा का माध्यम अंग्रेजी होने से बच्चों में आत्मविश्वास की कमी
    ‘बड़ी आंधी’ महसूस कर सरकार के खिलाफ झूठ फैलाने, दुष्प्रचार करने में जुटा विपक्ष : मोदी
    ‘बड़ी आंधी’ महसूस कर सरकार के खिलाफ झूठ फैलाने, दुष्प्रचार करने में जुटा विपक्ष : मोदी
    2019 में जीत के बाद 50 साल तक पार्टी को कोई हराने वाला नहीं होगा :शाह
    2019 में जीत के बाद 50 साल तक पार्टी को कोई हराने वाला नहीं होगा :शाह
PTI
PTI
Select
खबर
Skip Navigation Linksहोम राष्ट्रीय
login
  • सबस्क्राइबर
  • यूज़र नाम
  • पासवर्ड   
  • याद रखें
ad
add
add
  • अदालत ने आगरा के बिशप को गिरफ्तारी से राहत दी

  • विज्ञापन
  • [ - ] फ़ॉन्ट का आकार [ + ]
पीटीआई-भाषा संवाददाता 22:43 HRS IST

नैनीताल, 12 जनवरी : भाषा : उत्तराखंड उच्च न्यायालय ने आज एक संपत्ति विवाद मामले में आगरा के बिशप को गिरफ्तारी से राहत दे दी।

न्यायमूर्ति सुधाशुं धूलिया की पीठ ने बिशप को राहत देते हुए आदेश दिया कि पुलिस द्वारा बिशप को गिरफ्तार करने के लिए कोई दंडात्मक कदम नहीं उठाए जाएं।

आगरा के बिशप प्रेम प्रकाश हाबिल ने उत्तराखंड उच्च न्यायालय में याचिका दायर कर राहत की मांग की थी।

एक पादरी विजय कुमार रोबिंसन ने हल्द्वानी में प्राथमिकी दर्ज कराकर आरोप लगाया है कि ‘लखनऊ डाइयासेसन ट्रस्ट ऐसोसिएशन’ के सचिव और निदेशक होने का दावा करने वाले छह लोगों ने नैनीताल के ‘आल सेंट्स कालेज एंड शेर्वुड कालेज’ की संपत्तियों को धोखाधड़ी से हड़पने का प्रयास किया।

  • अपनी टिप्पणी पोस्ट करे ।