20 Sep 2018, 21:32 HRS IST
  • जन सहयोग से चार साल में पिछले 60 वर्ष से ज्यादा सफाई हुई
    जन सहयोग से चार साल में पिछले 60 वर्ष से ज्यादा सफाई हुई
    शिक्षा का माध्यम अंग्रेजी होने से बच्चों में आत्मविश्वास की कमी
    शिक्षा का माध्यम अंग्रेजी होने से बच्चों में आत्मविश्वास की कमी
    ‘बड़ी आंधी’ महसूस कर सरकार के खिलाफ झूठ फैलाने, दुष्प्रचार करने में जुटा विपक्ष : मोदी
    ‘बड़ी आंधी’ महसूस कर सरकार के खिलाफ झूठ फैलाने, दुष्प्रचार करने में जुटा विपक्ष : मोदी
    2019 में जीत के बाद 50 साल तक पार्टी को कोई हराने वाला नहीं होगा :शाह
    2019 में जीत के बाद 50 साल तक पार्टी को कोई हराने वाला नहीं होगा :शाह
PTI
PTI
Select
खबर
Skip Navigation Linksहोम राष्ट्रीय
login
  • सबस्क्राइबर
  • यूज़र नाम
  • पासवर्ड   
  • याद रखें
ad
add
add
  • प्रधानमंत्री रिफाईनरी का कार्य शुभारंभ करेंगे: कलेक्टर

  • विज्ञापन
  • [ - ] फ़ॉन्ट का आकार [ + ]
पीटीआई-भाषा संवाददाता 15:28 HRS IST

जयपुर:बीकानेर 13 जनवरी :भाषा: बाडमेर के जिला कलेक्टर एवं जिला मजिस्ट्रेट एन एस मदन ने कहा है कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी 16 जनवरी को पचपदरा में रिफाईनरी का कार्य आरंभ करेंगे शिलान्यास नहीं । वहीं पूर्व मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा कि मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने अपने बचाव के लिए कार्यक्रम का नाम बदला है ।

बाडमेर के जिला कलेक्टर एवं जिला मजिस्टेट ने आज पीटीआई भाषा से बातचीत करते हुए कहा कि शुरू से ही प्रधानमंत्री का कार्यक्रम रिफाईनरी का कार्य आरंभ करने का ही था शिलान्यास का नाम देना मीडिया की उपज थी ।

इस बीच प्रधानमंत्री के बाडमेर दौरे का कार्यक्रम तय होने को लेकर जारी सरकारी विज्ञप्तियों में रिफाइनरी में शिलान्यास करने का जिक्र था ।

पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस के राष्टीय महासचिव अशोक गहलोत ने आज बीकानेर में संवाददाताओं से कहा कि रिफाइनरी के शिलान्यास कार्यक्रम का नाम बदलकर कार्य शुभारंभ करना प्रदेश की मुख्यमंत्री का फेस सेविंग :अपने बचाव का: करने का नया तरीका है, मुख्मयंत्री इसका दुबारा शिलान्यास करवाकर जनता को क्या सन्देश देना चाहती है यह समझ से बाहर है। गहलोत ने कहा ‘‘मैने पूर्व में कहा था कि राज्य सरकार की रिफाइनरी प्रोजेक्ट में 26 प्रतिशत की भागीदारी है, लेकिन अब प्रदेश में भाजपा की सरकार है और एमओयू में अभी भी 26 प्रतिशत की भागीदारी है तो इसका प्रतिशत क्यों नही बदला गया। सरकार ने इसमें चार साल से अधिक समय लगा दिया, अगर रिफाइनरी का सही समय पर काम हो जाता, तो प्रदेश को काफी फायदा मिलता।’’ उन्होने कहा कि जब प्रदेश में कांग्रेस की सरकार थी तब पूर्ववर्ती भैरोसिंह शेखावत सरकार की किसी भी योजना को बंद नहीं किया गया था। लेकिन वर्तमान भाजपा सरकार कांग्रेस सरकार द्वारा शुरू की गई जनकल्याणकारी योजनाओं को खत्म करने में लगी रही और अब जब चुनाव नजदीक आ रहे हैं, तो झूठी वाहवाही लूटने का काम कर रही है।

  • अपनी टिप्पणी पोस्ट करे ।