21 Jul 2018, 15:3 HRS IST
  • गुवाहाटी : गर्मी से निजात पाने के लिए नदी में नहाते बंदर जोडी
    गुवाहाटी : गर्मी से निजात पाने के लिए नदी में नहाते बंदर जोडी
    अंतरराष्ट्रीय ओलंपिक समिति के अध्यक्ष बैच पत्रकारों को संबोधित करते
    अंतरराष्ट्रीय ओलंपिक समिति के अध्यक्ष बैच पत्रकारों को संबोधित करते
    खोरदा : किसान मानसून के मौके पर धान की रोपाई करते
    खोरदा : किसान मानसून के मौके पर धान की रोपाई करते
    मानसून सत्र में ​भाग लेते प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी
    मानसून सत्र में ​भाग लेते प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी
PTI
PTI
Select
खबर
Skip Navigation Linksहोम राष्ट्रीय
login
  • सबस्क्राइबर
  • यूज़र नाम
  • पासवर्ड   
  • याद रखें
ad
add
add
  • तीनमूर्ति चौक का नाम इ्स्राइली शहर हैफा पर रखा गया

  • विज्ञापन
  • [ - ] फ़ॉन्ट का आकार [ + ]
पीटीआई-भाषा संवाददाता 15:23 HRS IST

नयी दिल्ली, 14 जनवरी (भाषा) ऐतिहासिक तीन मूर्ति चौक का नाम बदलकर इस्राइली शहर हैफा के नाम पर रखा गया गया है। सालभर पहले एनडीएमसी ने इस योजना को ठंडे बस्ते में डाल दिया था।

इ्स्राइली प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतान्याहू की निर्धारित भारत यात्रा के बाद यह घोषणा की गयी है।

पिछले साल प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की इस्राइल यात्रा के दौरान नयी दिल्ली नगरपालिका परिषद (एनडीएमसी) ने तीन मूर्ति मार्ग और चौक का नाम हैफा के नाम पर रखने का प्रस्ताव रखा।

अप्रैल में एक बैठक में एनडीएमसी के कुछ सदस्यों ने दावा किया कि यह प्रस्ताव पारित हो गया है लेकिन पर परिषद के अध्यक्ष नरेश कुमार ने बाद में घोषणा की थी कि यह मुद्दा टाल दिया गया।

परिषद के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा,‘‘प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और उनके इस्राइली समकक्ष बेंजामिन नेतान्याहू स्मारक पर संयुक्त रुप से श्रद्धासुमन अर्पित करेंगे।’’

उन्होंने कहा, ‘‘हैफा की लड़ाई के सौंवे साल में भारत और इ्स्राइल के बीच मित्रता के प्रतीक के तौर पर तीन मूर्ति चौक का नाम अब तीन मूर्ति हैफा चौक होगा।’’

द्वितीय विश्वयुद्ध के दौरान भारतीय सैनिकों ने हैफा को ऑटोमन साम्राज्य के कब्जे से मुक्त कराया था। 15 वीं इंपेरियल सर्विस कैवलरी ब्रिग्रेड के बहुत सारे भारतीय सैनिक इस शहर को आजाद कराने की लड़ाई में शहीद हुए थे और करीब 900 का इस्राइल में अंतिम संस्कार किया गया था।

पिछले कुछ सालों में आरएसएस समेत कई संगठनों ने तीनमूर्ति चौक रोड और चौक का नाम बदलने की मांग की थी।

  • अपनी टिप्पणी पोस्ट करे ।