06 Jul 2020, 05:31 HRS IST
  • प्रधानमंत्री जी बोलिए कि चीन ने हमारी जमीन हथियाई,देश आपके साथ है:राहुल
    प्रधानमंत्री जी बोलिए कि चीन ने हमारी जमीन हथियाई,देश आपके साथ है:राहुल
    दुबई के गुरुद्वारे ने भारतीयों की स्वदेश वापसी के लिए पहला चार्टर्ड विमान पंजाब भेजा
    दुबई के गुरुद्वारे ने भारतीयों की स्वदेश वापसी के लिए पहला चार्टर्ड विमान पंजाब भेजा
    सीबीएसई बोर्ड परीक्षाओं के परिणाम की घोषणा 15 जुलाई तक
    सीबीएसई बोर्ड परीक्षाओं के परिणाम की घोषणा 15 जुलाई तक
    सेना प्रमुख ने लद्दाख का दौरा कर हालात का जायजा लिया
    सेना प्रमुख ने लद्दाख का दौरा कर हालात का जायजा लिया
PTI
PTI
Select
खबर
Skip Navigation Linksहोम राष्ट्रीय
login
  • सबस्क्राइबर
  • यूज़र नाम
  • पासवर्ड   
  • याद रखें
ad
add
add
  • उच्चतम न्यायालय ने रोडरेज मामले में सिद्धू को दोषी ठहराया, लेकिन नहीं दी जेल की सजा

  • विज्ञापन
  • [ - ] फ़ॉन्ट का आकार [ + ]
पीटीआई-भाषा संवाददाता 12:2 HRS IST



नयी दिल्ली , 15 मई ( भाषा ) उच्चतम न्यायालय ने पंजाब के पर्यटन मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू को वर्ष 1988 के रोड रेड मामले में 65 वर्षीय एक व्यक्ति को जानबूझकर चोट पहुंचाने का आज दोषी ठहराया। हालांकि सिद्धू को न्यायालय ने इस मामले में जेल की सजा से बख्श दिया।

न्यायमूर्ति जे चेलामेश्वर और न्यायमूर्ति संजय किशन कौल की पीठ ने कहा कि सिद्धू भारतीय दंड संहिता की धारा 323 ( जानबूझकर चोट पहुंचाना ) के तहत दोषी हैं और उन पर 1,000 रूपये का जुर्माना लगाया जाता है।

पीठ ने कहा , ‘‘ ए 1 ( सिद्धू ) को दोषी करार दिया जाता है। उन्हें कोई सजा नहीं दी जा रही है लेकिन 1,000 रूपये का जुर्माना लगाया जाता है। ए 2 ( रूपिंदर सिंह संधू ) को बरी किया जाता है। ’’

रूपिंदर सिंह संधू सिद्धू के सहायक थे।

  • अपनी टिप्पणी पोस्ट करे ।