21 Sep 2018, 13:6 HRS IST
  • जन सहयोग से चार साल में पिछले 60 वर्ष से ज्यादा सफाई हुई
    जन सहयोग से चार साल में पिछले 60 वर्ष से ज्यादा सफाई हुई
    शिक्षा का माध्यम अंग्रेजी होने से बच्चों में आत्मविश्वास की कमी
    शिक्षा का माध्यम अंग्रेजी होने से बच्चों में आत्मविश्वास की कमी
    ‘बड़ी आंधी’ महसूस कर सरकार के खिलाफ झूठ फैलाने, दुष्प्रचार करने में जुटा विपक्ष : मोदी
    ‘बड़ी आंधी’ महसूस कर सरकार के खिलाफ झूठ फैलाने, दुष्प्रचार करने में जुटा विपक्ष : मोदी
    2019 में जीत के बाद 50 साल तक पार्टी को कोई हराने वाला नहीं होगा :शाह
    2019 में जीत के बाद 50 साल तक पार्टी को कोई हराने वाला नहीं होगा :शाह
PTI
PTI
Select
खबर
Skip Navigation Linksहोम अर्थ
login
  • सबस्क्राइबर
  • यूज़र नाम
  • पासवर्ड   
  • याद रखें
ad
add
add
  • सेना के लिए वैकल्पिक संचार नेटवर्क बनाने की परियोजना का बजट दोगुना

  • विज्ञापन
  • [ - ] फ़ॉन्ट का आकार [ + ]
पीटीआई-भाषा संवाददाता 17:43 HRS IST



नयी दिल्ली, 16 मई (भाषा) सरकार ने सेनाओं के लिए वैकल्पिक संचार नेटवर्क बनाने के लिए बजट को आज लगभग दोगुना कर 24,664 करोड़ रुपये कर दिया।

आधिकारिक बयान के अनुसार स्पेक्ट्रम के बदले नेटवर्क स्थापित करने की (एनएफएस) परियोजना का बजट 11,330 करोड़ रुपये बढ़ाने को आज मंजूरी दी गई।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्‍यक्षता में आर्थिक मामलों की मंत्रिमंडल समिति ने इस आशय के प्रस्ताव को मंजूरी दी।

सरकारी बयान के अनुसार रक्षा सेवाओं से खास बैंड का स्पेक्ट्रम मुक्त कराने के बदले उनके लिए एक वैकल्पिक संचार नेटवर्क बिछाने के उद्देश्‍य से एनएफएस परियोजना का बजट 11,330 करोड़ रुपये बढ़ाने को मंजूरी दी गई है।

बुनियादी ढांचे पर मंत्रिमंडल समिति ने इस परियोजना के लिए जुलाई 2012 में 13,334 करोड़ रुपये से अधिक की मंजूरी दी थी।

सार्वजनिक कंपनी भारत संचार निगम लिमिटेड (बीएसएनएल) द्वारा कार्यान्वित की जाने वाली परियोजना 24 महीने में पूरी होनी है।

बयान के अनुसार एनएफएस परियोजना से रक्षा सेवाओं की संचार क्षमता में व्यापक वृद्धि होगी।

  • अपनी टिप्पणी पोस्ट करे ।