15 Oct 2018, 21:8 HRS IST
  • हुबली : कर्नाटक में दशहरा समारोह में ‘गोट फाइट’ का आयोजन
    हुबली : कर्नाटक में दशहरा समारोह में ‘गोट फाइट’ का आयोजन
    गुवाहाटी : प्लास्टिक की बोतल से तैयार एक दुर्गा पूजा पंडाल
    गुवाहाटी : प्लास्टिक की बोतल से तैयार एक दुर्गा पूजा पंडाल
    कोलकाता : सियालदाह में पूजा पंडाल में ले जायी जा रही दुर्गा प्रतिमा
    कोलकाता : सियालदाह में पूजा पंडाल में ले जायी जा रही दुर्गा प्रतिमा
    नयी दिल्ली : रेनबो शो के फिनाले में फिल्म अभिनेत्री हुमा कुरैशी
    नयी दिल्ली : रेनबो शो के फिनाले में फिल्म अभिनेत्री हुमा कुरैशी
PTI
PTI
Select
खबर
Skip Navigation Linksहोम विदेश
login
  • सबस्क्राइबर
  • यूज़र नाम
  • पासवर्ड   
  • याद रखें
ad
add
add
  • दुश्मनों की तरह बर्ताव कर रहे ट्रंप : ईयू प्रमुख

  • विज्ञापन
  • [ - ] फ़ॉन्ट का आकार [ + ]
पीटीआई-भाषा संवाददाता 12:2 HRS IST



सोफिया , 17 मई ( एएफपी ) यूरोपीय संघ के शीर्ष अधिकारी ने कहा है कि अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप दोस्त की तरह नहीं बल्कि दुश्मनों की तरह बर्ताव कर रहे हैं।

ईयू के अध्यक्ष डोनाल्ड टस्क ने कल बुल्गारिया में हुई एक बैठक में यूरोपीय संघ के नेताओं से कहा कि ईरान के साथ परमाणु समझौते से ट्रंप के पीछे हटने और अमेरिका द्वारा यूरोप पर व्यापार संबंधी शुल्क लगाए जाने के खिलाफ वह एक ‘ संयुक्त यूरोपीय मोर्चा ’ बनाएं ।

टस्क ने अमेरिकी प्रशासन की तुलना यूरोप के पारंपरिक विरोधी रूस और चीन से की ।

टस्क ने संवाददाताओं से कहा , ‘‘ राष्ट्रपति ट्रंप के हालिया फैसलों को देखकर कोई भी यही सोचेगा कि अगर ट्रंप जैसे दोस्त हैं तो दुश्मनों की किसे जरूरत है। ’’

यूरोप के मंत्रियों ने मंगलवार को ब्रसेल्स में ईरान के एक शीर्ष अधिकारी से मुलाकात की थी। ईरान के साथ परमाणु समझौते से अमेरिका के पीछे हटने के बाद इस समझौते को बचाने के उद्देश्य से यह मुलाकात की गई थी।

टस्क ने बढ़ती चुनौतियों का सामना करने के लिए बंटे हुए ईयू में और एकजुटता का अनुरोध किया।

टस्क ने कहा चीन के उभार और रूस के आक्रमक रूख जैसी राजनीतिक चुनौतियों के अलावा , हम आज नए घटनाक्रम को देख रहे हैं जिसमें अमेरिकी प्रशासन मनमाने और एकतरफा फैसले लेने पर अड़ा हुआ है।

बातचीत के बाद , यूरोप की ओर से एक सूत्र ने एएफपी को बताया कि नेताओं ने ईरान के साथ समझौते पर, ‘एकजुट ईयू’ पर सहमति जताई और कहा कि अगर ईरान इसका पालन करता है तो समझौते को समर्थन जारी रहेगा।

ब्रिटेन की प्रधानमंत्री टेरीजा मे , जर्मनी की चालंसलर एंजिला मर्केल और फ्रांस के राष्ट्रपति एमैनुएल मैक्रों ने हालात पर अपने विचार रखे।

ब्रिटेन , जर्मनी , फ्रांस , अमेरिका , रूस और चीन ने ईरान समझौते पर हस्ताक्षर किए थे।

एएफपी नोमान मानसी मानसी 1705 1202 सोफिया

  • अपनी टिप्पणी पोस्ट करे ।