21 Sep 2018, 02:33 HRS IST
  • जन सहयोग से चार साल में पिछले 60 वर्ष से ज्यादा सफाई हुई
    जन सहयोग से चार साल में पिछले 60 वर्ष से ज्यादा सफाई हुई
    शिक्षा का माध्यम अंग्रेजी होने से बच्चों में आत्मविश्वास की कमी
    शिक्षा का माध्यम अंग्रेजी होने से बच्चों में आत्मविश्वास की कमी
    ‘बड़ी आंधी’ महसूस कर सरकार के खिलाफ झूठ फैलाने, दुष्प्रचार करने में जुटा विपक्ष : मोदी
    ‘बड़ी आंधी’ महसूस कर सरकार के खिलाफ झूठ फैलाने, दुष्प्रचार करने में जुटा विपक्ष : मोदी
    2019 में जीत के बाद 50 साल तक पार्टी को कोई हराने वाला नहीं होगा :शाह
    2019 में जीत के बाद 50 साल तक पार्टी को कोई हराने वाला नहीं होगा :शाह
PTI
PTI
Select
खबर
Skip Navigation Linksहोम अर्थ
login
  • सबस्क्राइबर
  • यूज़र नाम
  • पासवर्ड   
  • याद रखें
ad
add
add
  • मुद्रास्फीति, डॉलर की मांग में तेजी से रुपया शुरुआती कारोबार में 13 पैसे टूटा

  • विज्ञापन
  • [ - ] फ़ॉन्ट का आकार [ + ]
पीटीआई-भाषा संवाददाता 10:44 HRS IST



मुंबई , 13 जून (भाषा) खुदरा मुद्रास्फीति बढ़ने और विदेशी पूंजी निकासी के बीच आयातकों की ओर से अमेरिकी मुद्रा की मांग बढ़ने से आज शुरुआती कारोबार में डॉलर के मुकाबले रुपया 13 पैसे गिरकर 67.62 रुपये प्रति डॉलर पर रहा।

फल , सब्जी और अनाज जैसे खाने के सामान महंगा होने तथा ईंधन कीमत बढ़ने से खुदरा मुद्रास्फीति मई महीने में बढ़कर चार महीने के उच्चतम स्तर 4.87 प्रतिशत पर पहुंच गयी।

हालांकि , विनिर्माण और खनन क्षेत्र के बेहतर प्रदर्शन से अप्रैल महीने में औद्योगिक उत्पादन की वृद्धि दर बढ़कर 4.9 प्रतिशत पर पहुंच गयी।

मुद्रा कारोबारियों ने कहा कि अन्य विदेशी मुद्राओं के मुकाबले डॉलर में मजबूती और अमेरिकी फेडरल रिजर्व की बैठक के नतीजों को लेकर निवेशकों के सतर्क रुख अपनाने से रुपये पर दबाव रहा।

हालांकि , घरेलू शेयर बाजार की शुरुआती बढ़त ने रुपये की गिरावट को थामने का प्रयास किया।

अस्थायी आंकड़ों के मुताबिक , कल विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों ने 1,168.88 करोड़ रुपये के शेयरों के बिकवाली की।

कल के कारोबार सत्र में डॉलर के मुकाबले रुपया 7 पैसे टूटकर 67.49 रुपये प्रति डॉलर पर बंद हुआ था।

इस बीच , बंबई शेयर बाजार का प्रमुख सूचकांक आज शुरुआती कारोबार में 184.89 अंक यानी 0.51 प्रतिशत चढ़कर 35,877.41 अंक पर पहुंच गया।

  • अपनी टिप्पणी पोस्ट करे ।