20 Aug 2018, 12:59 HRS IST
  • वाजपेयी की अस्थियां गंगा में विसर्जित
    वाजपेयी की अस्थियां गंगा में विसर्जित
    हिन्दी को संरा की आधिकारिक भाषा बनाने के लिए समर्थन जुटाना कोई कठिन काम नहीं : सुषमा
    हिन्दी को संरा की आधिकारिक भाषा बनाने के लिए समर्थन जुटाना कोई कठिन काम नहीं : सुषमा
    मक्का मदीना में हज यात्रियों की भीड
    मक्का मदीना में हज यात्रियों की भीड
    फ्रेंकफर्ट: मेन नदी में पार्टी बोट क्रूज का दृश्य
    फ्रेंकफर्ट: मेन नदी में पार्टी बोट क्रूज का दृश्य
PTI
PTI
Select
खबर
Skip Navigation Linksहोम विदेश
login
  • सबस्क्राइबर
  • यूज़र नाम
  • पासवर्ड   
  • याद रखें
ad
add
add
  • सीमा पर तनाव कम करने के लिये सैन्य वार्ता कर रहे हैं कोरियाई देश

  • विज्ञापन
  • [ - ] फ़ॉन्ट का आकार [ + ]
पीटीआई-भाषा संवाददाता 13:9 HRS IST



सोल , 14 जून (एपी) अपनी - अपनी सीमाओं पर तनाव कम करने के लिये उत्तर कोरिया एवं दक्षिण कोरिया के बीच आज दुर्लभ उच्च स्तरीय सैन्य वार्ता होने वाली है। एक - दूसरे के धुर प्रतिद्वंद्वी रहे दोनों देशों ने आपसी तनाव के चलते अपनी - अपनी सीमाओं पर भारी सुरक्षा इंतजाम किये हैं।

ऐसी संभावना है कि सीमाई गांव पनमुनजोम में वार्ता के दौरान उत्तर कोरिया के अधिकारी दक्षिण कोरिया से अमेरिका के साथ उसके सैन्य अभ्यासों को रोकने के मुद्दे पर पक्के वादे की मांग करेंगे।

मंगलवार को उत्तर कोरिया के नेता किम जोंग उन के साथ वार्ता के बाद अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने कहा था कि परमाणु वार्ता के दौरान सहयोगियों को ‘‘ नेक नीयत ’’ दिखाते हुए युद्ध का खेल बंद करना चाहिए।

दक्षिण कोरिया के राष्ट्रपति कार्यालय ने कहा कि वह ट्रम्प के कथन के मर्म और उसके प्रयोजन को समझने की कोशिश कर रहे हैं। वे यह भी कोशिश कर रहे हैं कि सहयोगी देश उत्तर कोरिया से बातचीत की दिशा में ‘‘ आगे बढ़ने के लिये ’’ नये - नये तरीके इजाद करें।

दिसंबर 2007 के बाद दोनों देशों के बीच यह पहली जनरल - स्तर की वार्ता होने वाली है।

वार्ता से पहले दक्षिण कोरिया के मेजर जनरल किम डो - ग्यून ने संवाददाताओं को बताया , ‘‘ कोरियाई प्रायद्वीप पर शांति के नये युग की शुरुआत के लिये हमलोग अपना सर्वश्रेष्ठ प्रयास करेंगे। ’’

एपी सुरभि वैभव वैभव 1406 1309 सोल

  • अपनी टिप्पणी पोस्ट करे ।
  • इस खण्ड में