02 Mar 2021, 19:26 HRS IST
  • प्रियंका गांधी ने दो दिवसीय असम दौरे की शुरुआत की
    प्रियंका गांधी ने दो दिवसीय असम दौरे की शुरुआत की
    ओडिशा के मुख्यमंत्री पटनायक ने ‘कोवैक्सीन’ टीके की पहली खुराक ली
    ओडिशा के मुख्यमंत्री पटनायक ने ‘कोवैक्सीन’ टीके की पहली खुराक ली
    तोक्यो ओलंपिक आयोजन समिति का अध्यक्ष पद संभालेंगी हाशिमोतो
    तोक्यो ओलंपिक आयोजन समिति का अध्यक्ष पद संभालेंगी हाशिमोतो
    इंग्लैंड पर जीत के साथ भारत डब्ल्यूटीसी रैंकिंग में दूसरे स्थान पर पहुंचा
    इंग्लैंड पर जीत के साथ भारत डब्ल्यूटीसी रैंकिंग में दूसरे स्थान पर पहुंचा
PTI
PTI
Select
खबर
Skip Navigation Linksहोम राष्ट्रीय
login
  • सबस्क्राइबर
  • यूज़र नाम
  • पासवर्ड   
  • याद रखें
ad
add
add
  • केन्द्र ने राज्यों से बच्चा चोरी की अफवाह पर पीट-पीटकर हत्या की घटनाएं रोकने के लिये कहा

  • विज्ञापन
  • [ - ] फ़ॉन्ट का आकार [ + ]
पीटीआई-भाषा संवाददाता 15:24 HRS IST

नयी दिल्ली , पांच जुलाई (भाषा) केन्द्र ने आज राज्यों और केन्द्र शासित प्रदेशों से सोशल मीडिया पर बच्चा चोरी की अफवाहों के बाद भीड़ द्वारा पीट - पीटकर मार डालने की घटनाओं को रोकने के लिये कहा।

बीते दो महीनों में बच्चा चोरी के संदेह में देशभर में 20 से अधिक लोगों को पीट - पीटकर मार डाला गया है और ताजा मामला महाराष्ट्र के धुले जिले का है जहां भीड़ ने पांच लोगों की पीट - पीटकर जान ले ली।

गृह मंत्रालय ने एक परामर्श में राज्यों और केन्द्र शासित प्रदेशों से ‘‘ बच्चा चोरी की अफवाहों का जल्दी पता लगाने के लिये पैनी नजर रखने और उन्हें रोकने के लिये असरदार उपाय शुरू करने ’’ को कहा।

गृह मंत्रालय के एक प्रवक्ता ने कहा , ‘‘ केन्द्र ने राज्यों और केन्द्र शासित प्रदेशों से सोशल मीडिया पर बच्चा चोरी की अफवाहें फैलाकर भीड़ द्वारा पीट - पीटकर मार डालने की घटनाओं को रोकने के लिये उपाय करने को कहा। ’’

उनके अनुसार, राज्यों और केन्द्र शासित प्रदेशों से जिला प्रशासनों को असुरक्षित क्षेत्रों की पहचान करके जागरूकता फैलाने तथा विश्वास बहाल करने का निर्देश देने को कहा गया।

प्रवक्ता ने बताया कि राज्यों और केन्द्र शासित प्रदेशों से प्रभावित लोगों में विश्वास पैदा करने के लिये बच्चों के अपहरण की शिकायतों की जांच उचित ढंग से करने को कहा गया।

गौरतलब है कि मंगलवार को सरकार ने व्हाट्सएप को, ‘‘ गैरजिम्मेदार एवं बवाल मचाने वाले संदेशों ’’ को फैलने से रोकने के लिये तत्काल कदम उठाने का निर्देश दिया था।

  • अपनी टिप्पणी पोस्ट करे ।