15 Nov 2018, 15:31 HRS IST
  • भारत की पहली बिना इंजन की रेलगाड़ी ‘ट्रेन18’
    भारत की पहली बिना इंजन की रेलगाड़ी ‘ट्रेन18’
    यूनिसेफ की यूथ एम्बेसडर बनी एथलीट हिमा दास
    यूनिसेफ की यूथ एम्बेसडर बनी एथलीट हिमा दास
    चाचा नेहरू की 129वीं जयंती पर पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी
    चाचा नेहरू की 129वीं जयंती पर पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी
    मोदी ने फिनटेक फेस्टिवल में भारत को बताया निवेश के लिए पसंदीदा स्थान
    मोदी ने फिनटेक फेस्टिवल में भारत को बताया निवेश के लिए पसंदीदा स्थान
PTI
PTI
Select
खबर
Skip Navigation Linksहोम खेल
login
  • सबस्क्राइबर
  • यूज़र नाम
  • पासवर्ड   
  • याद रखें
ad
add
add
  • ‘चमत्कारिक’ जीत के बाद जश्न में डूबा क्रोएशिया

  • विज्ञापन
  • [ - ] फ़ॉन्ट का आकार [ + ]
पीटीआई-भाषा संवाददाता 11:14 HRS IST



जगरेब, 12 जुलाई (एएफपी) पहली बार विश्व कप फाइनल में पहुंचने के बाद क्रोएशिया में मानों जज्बात का सैलाब उमड़ पड़ा । कहीं आंसू छलके तो कहीं ठहाके बिखरे । कहीं पटाखे छूटे तो कहीं नारों के शोर से आसमान गूंज उठा ।



सरकारी एचआरटी टीवी के कमेंटेटर ड्रागो कोसिच खुशी से चीखते हुए बोले ,‘‘ क्रोएशिया विश्व कप फाइनल में । शानदार । सबसे बड़ा चमत्कार रूस में ।’’

जगरेब के मुख्य चौक पर भारी बारिश के बावजूद हजारों की संख्या में फुटबालप्रेमी उमड़ पड़े ।

क्रोएशिया के स्टार खिलाड़ी लूका मोडरिच ने कहा ,‘‘ हम गौरवान्वित और खुश हैं ।हम यहां नहीं रूकेंगे ।’

विजयी गोल करने वाले मनजुकिच ने कहा ,‘‘ महान टीमें ही इंग्लैंड के खिलाफ एक गोल से पिछड़ने के बाद वापसी कर सकती हैं ।हम शेरों की तरह खेलें ।’’



सड़कों पर क्रोएशिया के ध्वज के लाल , सफेद और नीले रंग लपेटे लोगों का समूह खुशी में नाचता और गाता नजर आया ।

अपने दोस्तों के साथ जश्न में सराबोर फ्रान कूलिच ने कहा ,‘‘ यह जज्बात से भरी शाम है ।हमारे लिये यह बहुत बड़ी जीत है ।’’



कैफे और होटलों में वेटरों, कर्मचारियों, टीवी कमेंटेटरों और अस्पतालों में नर्सों ने भी लाल और सफेद जर्सी पहन रखी थी । कुछ दुकानें जल्दी बंद हो गई ताकि स्टाफ मैच देख सके ।

एएफपी मोना मोना 1207 1113 जगरेब

  • अपनी टिप्पणी पोस्ट करे ।