17 Nov 2018, 16:24 HRS IST
  • सबरीमला: भगवान अयप्पा मंदिर का दर्शन करने जाते श्रद्धालुगण
    सबरीमला: भगवान अयप्पा मंदिर का दर्शन करने जाते श्रद्धालुगण
    वार्षिक पुष्कर मेले में घुमता एक व्यापारी
    वार्षिक पुष्कर मेले में घुमता एक व्यापारी
    वार्षिक पुष्कर मेले में घूमते पर्यटक
    वार्षिक पुष्कर मेले में घूमते पर्यटक
    एक कार्यक्रम में अमिताभ बच्चन और जया बच्चन
    एक कार्यक्रम में अमिताभ बच्चन और जया बच्चन
PTI
PTI
Select
खबर
Skip Navigation Linksहोम राष्ट्रीय
login
  • सबस्क्राइबर
  • यूज़र नाम
  • पासवर्ड   
  • याद रखें
ad
add
add
  • राजस्थान में ‘ई स्टूडियो’ की शुरुआत

  • विज्ञापन
  • [ - ] फ़ॉन्ट का आकार [ + ]
पीटीआई-भाषा संवाददाता 18:46 HRS IST



जयपुर, 14 सितंबर (भाषा) राजस्थान में ‘ई-स्टूडियो’ की शुरुआत शुक्रवार को हुई जिसके जरिए राज्य के दूरस्थ क्षेत्रों के आईसीटी लैब वाले सभी विद्यालयों के कक्षा-कक्षों को ‘वर्चुअल’ कक्षाओं से जोड़ा जा सकेगा।

शिक्षा राज्य मंत्री वासुदेव देवनानी ने शिक्षा संकुल के राजीव गाँधी विद्या भवन में इस ‘ई-स्टूडियो’ की शुरुआत की। राजस्थान माध्यमिक शिखा परिषद्, सूचना व संचार प्रौद्येागिकी तथा संचार विभाग ने करीब 3.22 करोड़ रूपये की लागत से यह पहल की है।

सरकारी बयान के अनुसार इस स्टूडियो के जरिए राज्य के दूरस्थ क्षेत्रों के समस्त आईसीटी लैब वाले विद्यालयों के कक्षा-कक्षों को वर्चुअल कक्षाओं से जोड़ा जा सकेगा। इसके साथ ही अब शिक्षा संकुल से ही विद्यालयों और शिक्षा विभाग के कार्यालयों के शिक्षक, अधिकारीगण परस्पर प्रसारण के माध्यम से संवाद कर सकेंगे।

शिक्षा राज्य मंत्री देवनानी ने उम्मीद जताई कि यह ई-स्टूडियो राज्य की शिक्षा व्यवस्था में मील का पत्थर साबित होगा। उन्होंने बताया कि इस स्टूडियो के जरिए विद्यालय स्तर तक वर्चुअल अथवा डिजिटल शिक्षा की पहुंच होगी तथा विद्यार्थियों को पाठ्यसामग्री का इ-कन्टेन्ट उपलब्ध हो सकेगा।

उन्होंने कहा कि इस समय प्रदेश में 8,500 विद्यालयों में आईसीटी लैब हैं। इसी शिक्षा सत्र में और 5500 विद्यालयों में आईसीटी लैब स्थापित कर दिए जाएंगे। देवनानी ने स्टूडियो से ही निदेशालय, बीकानेर के अधिकारियों से भी सीधे प्रसारण के जरिए संवाद किया।

उन्होंने प्रांरभिक शिक्षा परिषद् के निदेशक श्यामसिंह राजपुरोहित को 28 हजार शिक्षकों की नियुक्ति प्रक्रिया को समय पर पूर्ण करने के निर्देश भी इस स्टूडियो के जरिए दिए। उन्होंने अजमेर स्थित ईटी सैल के अधिकारियों से भी इस दौरान संवाद किया।

  • अपनी टिप्पणी पोस्ट करे ।