27 Jun 2019, 03:31 HRS IST
  • न्यायालय का गुजरात में रास की दो सीटों पर अलग-अलग उपचुनाव के खिलाफ याचिका पर सुनवाई से इंकार
    न्यायालय का गुजरात में रास की दो सीटों पर अलग-अलग उपचुनाव के खिलाफ याचिका पर सुनवाई से इंकार
    जम्मू-कश्मीर के शोपियां जिले में मुठभेड़, चार आतंकवादी ढेर
    जम्मू-कश्मीर के शोपियां जिले में मुठभेड़, चार आतंकवादी ढेर
    सिरिसेना से मिले प्रधानमंत्री मोदी, पारस्परिक हित के द्विपक्षीय मुद्दों पर की चर्चा
    सिरिसेना से मिले प्रधानमंत्री मोदी, पारस्परिक हित के द्विपक्षीय मुद्दों पर की चर्चा
    मोदी ने गुरुवायुर में कहा, वाराणसी जितना ही मुझे प्रिय है केरल
    मोदी ने गुरुवायुर में कहा, वाराणसी जितना ही मुझे प्रिय है केरल
PTI
PTI
Select
खबर
Skip Navigation Linksहोम विदेश
login
  • सबस्क्राइबर
  • यूज़र नाम
  • पासवर्ड   
  • याद रखें
ad
add
add
  • शरीफ, बेटी और दामाद ने अपनी विदेश यात्रा पर लगी पाबंदी हटाने की मांग की

  • विज्ञापन
  • [ - ] फ़ॉन्ट का आकार [ + ]
पीटीआई-भाषा संवाददाता 21:31 HRS IST



इस्लामाबाद, 10 अक्टूबर (भाषा) पाकिस्तान के अपदस्थ प्रधानमंत्री नवाज शरीफ ने गृह मंत्रालय से आग्रह किया है कि उन पर और उनकी बेटी एवं दामाद की विदेश यात्रा पर लगी पाबंदी हटाई जाए।

इमरान खान सरकार ने जब भ्रष्टाचार निरोधी मुहिम के तहत शरीफ, उनकी बेटी मरयम नवाज और दामाद कैप्टन (रिटायर्ड) मोहम्मद सफदर को ‘एग्जिट कंट्रोल लिस्ट’ या निकास नियंत्रण सूची (ईसीएल) में डाला था। तब तीनों एवेनफील्ड फ्लैट भ्रष्टाचार मामले में दोषी करार दिए जा चुके थे और जेल में सजा काट रहे थे।

इस्लामाबाद उच्च न्यायालय ने बाद में तीनों को जेल से रिहा कर दिया और उनकी सजा निलंबित कर दी।

उल्लेखनीय है कि ‘ईसीएल’ में शामिल लोगों को पाकिस्तान से बाहर जाने की इजाजत नहीं होती।

शरीफ, मरयम और सफदर ने तीन अलग-अलग पत्र गृह मंत्रालय को भेजे हैं। इनमें ‘ईसीएल’ से यह कहते हुए अपने-अपने नाम हटाने की मांग की है कि किसी भी संस्था ने उनके नाम इस सूची में दर्ज करने के आदेश नहीं दिए हैं।

उन्होंने अपने पत्र में लिखा है कि इस संबंध में संघीय सरकार का आदेश असंवैधानिक और अवैध है और ‘ईसीएल’ में उनका नाम रखा जाना पाकिस्तानी संविधान की धारा 4, 15 और 25 का उल्लंघन है।

  • अपनी टिप्पणी पोस्ट करे ।
  • इस खण्ड में