17 Feb 2019, 01:29 HRS IST
  • पुलवामा हमला: कैबिनेट की बैठक में भाग लेते प्रधानमंत्री व अन्य मंत्रीगण
    पुलवामा हमला: कैबिनेट की बैठक में भाग लेते प्रधानमंत्री व अन्य मंत्रीगण
    जम्मू: पुलवामा हमले के विरोध में प्रदर्शन करते लोग
    जम्मू: पुलवामा हमले के विरोध में प्रदर्शन करते लोग
    पुलवामा हमले के शहीदों को श्रद्धांजलि देते हुये गृहमंत्री राजनाथ सिंह
    पुलवामा हमले के शहीदों को श्रद्धांजलि देते हुये गृहमंत्री राजनाथ सिंह
    नयी दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी नयी ट्रेन वंदे भारत को हरी झंडी दिखाते हुये
    नयी दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी नयी ट्रेन वंदे भारत को हरी झंडी दिखाते हुये
PTI
PTI
Select
खबर
Skip Navigation Linksहोम अर्थ
login
  • सबस्क्राइबर
  • यूज़र नाम
  • पासवर्ड   
  • याद रखें
ad
add
add
  • आर्थिक संकट के समाधान को मित्र देशों, आईएमएफ दोनों के पास जायेंगे: इमरान खान

  • विज्ञापन
  • [ - ] फ़ॉन्ट का आकार [ + ]
पीटीआई-भाषा संवाददाता 22:10 HRS IST

इस्लामाबाद, 10 अक्टूबर (भाषा) पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने बुधवार को देशवासियों को आश्वासन दिया कि भुगतान संतुलन के संकट से बाहर निकलने के लिये उनकी सरकार मित्र देशों और आईएमएफ दोनों से ही मदद मांगेगी।

उन्होंने कहा, ‘‘हमारे सामने दो विकल्प हैं: पहला, हम मित्र देशों के पास जायें और उनसे कमी को पूरा करने के लिये कहें, दूसरा विकल्प है कि हम अंतरराष्टूीय मुद्राकोष (आईएमएफ) के पास जायें।’’

खान ने यहां नया पाकिस्तान आवासीय कार्यक्रम की शुरुआत करते हुये कहा, ‘‘सरकार ने फैसला किया है कि वह दोनों विकल्पों को अपनायेगी।’’ नया पाकिस्तान आवासीय कार्यक्रम के तहत आने वाले पांच साल में निम्न आय वर्ग के लोगों के लिये 50 लाख मकान बनाये जायेंगे। यह उनकी सरकार की अग्रणी योजना है।

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री ने कहा कि अर्थव्यवस्था की स्थिरता के लिये वह जल्द ही देश के समक्ष पूरी योजना रखेंगे जिसमें उन कदमों का जिक्र होगा जिन्हें सरकार आगे उठायेगी।

खान ने कहा कि पिछली सरकारों की वजह से देश पर कर्ज का बोझ है। इस कर्ज का भुगतान करने के लिये उनकी सरकार को और कर्ज लेने पर मजबूर होना पड़ रहा है। ‘‘हम इससे बाहर निकलेंगे। मैं देश को इससे बाहर निकालूंगा।’’

पाकिस्तान के वित्त मंत्री असद उमर ने सोमवार को कहा था कि पाकिस्तान 6 से 7 अरब डालर के राहत पैकेज के लिये आईएमएफ के पास जायेगा ताकि बढ़ते भुगतान संकट की समस्या से पार पाया जा सके।



  • अपनी टिप्पणी पोस्ट करे ।
  • इस खण्ड में