20 Jul 2019, 08:37 HRS IST
  • बाबरी मस्जिद प्रकरण: सुनवाई पूरी करने के लिये विशेष जज न्यायालय से छह माह का और वक्त चाहते हैं
    बाबरी मस्जिद प्रकरण: सुनवाई पूरी करने के लिये विशेष जज न्यायालय से छह माह का और वक्त चाहते हैं
    कर्नाटक संकट- न्यायालय ने इस्तीफों और अयोग्यता मुद्दे पर स्पीकर को 16 जुलाई तक निर्णय से रोका
    कर्नाटक संकट- न्यायालय ने इस्तीफों और अयोग्यता मुद्दे पर स्पीकर को 16 जुलाई तक निर्णय से रोका
    कांग्रेस में इस्तीफे का सिलसिला जारी, सिंधिया और देवड़ा ने भी अपना-अपना पद छोड़ा
    कांग्रेस में इस्तीफे का सिलसिला जारी, सिंधिया और देवड़ा ने भी अपना-अपना पद छोड़ा
    मोदी ने आबे के साथ भगोड़े आर्थिक अपराधियों और आपदा प्रबंधन के मुद्दे पर चर्चा की
    मोदी ने आबे के साथ भगोड़े आर्थिक अपराधियों और आपदा प्रबंधन के मुद्दे पर चर्चा की
PTI
PTI
Select
खबर
Skip Navigation Linksहोम अर्थ
login
  • सबस्क्राइबर
  • यूज़र नाम
  • पासवर्ड   
  • याद रखें
ad
add
add
  • अमेरिका की ईरान के जहाजरानी उद्योग से दूर रहने की चेतावनी

  • विज्ञापन
  • [ - ] फ़ॉन्ट का आकार [ + ]
पीटीआई-भाषा संवाददाता 12:4 HRS IST



वाशिंगटन, आठ नवंबर (एएफपी) अमेरिका ने सभी बंदरगाह और बीमा कंपनियों को चेतावनी दी है कि वह ईरानी जहाजरानी उद्योग से दूरी बनाकर रखें। इसे अमेरिकी प्रतिबंधों के बाद की ‘तैरती देयता’ (फ्लोटिंग लायबिलिटी) की संज्ञा दी गई है।

अमेरिका की कोशिश सोमवार से ही ईरान की सारी तेल बिक्री, इसका निर्यात रोकने की है, ताकि इसके प्रभाव को कम किया जा सके।

अमेरिका के विदेश मंत्रालय में ईरान नीति पर विशेष प्रतिनिधि ब्रायन हुक का कहना है कि अमेरिकी प्रतिबंध बीमा कंपनियों पर भी लागू होते हैं।

हुक ने बुधवार को पत्रकारों से कहा कि ईरान की जहाजरानी कंपनियों को इस तरह की सुविधाएं (बीमा) देने पर रोक अमेरिकी प्रतिबंधों का परिणाम है।

उन्होंने कहा कि स्वेज नहर से मलक्का के जलडमरूमध्य तक और इसके बीच में पड़ने वाले सभी चेक पॉइंट तक तैरते ईरानी जहाज अब एक तैरती देयता बन जाएंगे।

उन्होंने कहा कि ईरानी जहाज वापस घरेलू बीमा कंपनियों की ओर लौट सकते हैं लेकिन बड़ी दुर्घटना की स्थिति में उनके इस करोड़ो-अरबों डॉलर के नुकसान की भरपाई करने की क्षमता पर संदेह है।

  • अपनी टिप्पणी पोस्ट करे ।
  • इस खण्ड में