20 Jul 2019, 08:50 HRS IST
  • बाबरी मस्जिद प्रकरण: सुनवाई पूरी करने के लिये विशेष जज न्यायालय से छह माह का और वक्त चाहते हैं
    बाबरी मस्जिद प्रकरण: सुनवाई पूरी करने के लिये विशेष जज न्यायालय से छह माह का और वक्त चाहते हैं
    कर्नाटक संकट- न्यायालय ने इस्तीफों और अयोग्यता मुद्दे पर स्पीकर को 16 जुलाई तक निर्णय से रोका
    कर्नाटक संकट- न्यायालय ने इस्तीफों और अयोग्यता मुद्दे पर स्पीकर को 16 जुलाई तक निर्णय से रोका
    कांग्रेस में इस्तीफे का सिलसिला जारी, सिंधिया और देवड़ा ने भी अपना-अपना पद छोड़ा
    कांग्रेस में इस्तीफे का सिलसिला जारी, सिंधिया और देवड़ा ने भी अपना-अपना पद छोड़ा
    मोदी ने आबे के साथ भगोड़े आर्थिक अपराधियों और आपदा प्रबंधन के मुद्दे पर चर्चा की
    मोदी ने आबे के साथ भगोड़े आर्थिक अपराधियों और आपदा प्रबंधन के मुद्दे पर चर्चा की
PTI
PTI
Select
खबर
Skip Navigation Linksहोम खेल
login
  • सबस्क्राइबर
  • यूज़र नाम
  • पासवर्ड   
  • याद रखें
ad
add
add
  • हमें एकजुट होकर अगले मैच के लिए तैयार होना है: कांस्टेनटाइन

  • विज्ञापन
  • [ - ] फ़ॉन्ट का आकार [ + ]
पीटीआई-भाषा संवाददाता 16:59 HRS IST



अबुधाबी, 11 जनवरी (भाषा) भारतीय फुटबाल टीम के कोच स्टीफन कांस्टेनटाइन ने शुक्रवार को कहा कि एशियाई कप में टीम के पास नाकआउट चरण में पहुंचने का दमखम है जिसके लिए उन्हें बहरीन के खिलाफ अपने अगले मैच में एकजुट होकर खेलना होगा।



भारतीय टीम ने अपने पहले मैच में थाईलैंड को हराया था लेकिन गुरुवार को ग्रुप के दूसरे मैच में उसे यूएई से 0-2 से हार का सामना करना पड़ा।



उन्होंने कहा, ‘‘हमें खुद को एकजुट होकर अगले मैच के लिए तैयार होना होगा। हमें जीत के लक्ष्य के साथ उतरना होगा और उम्मीद है कि ऐसे नतीजे के साथ हम नाकआउट के लिए क्वालीफाई कर सकेंगे।



भारतीय टीम सोमवार को अपने अंतिम ग्रुप मैच में बहरीन के खिलाफ खेलेगी और मैच में जीत के साथ टीम अंतिम 16 में जगह बना लेगी।



टीम के करिश्माई स्ट्राइकर सुनील छेत्री ने भी कोच की बातों का समर्थन किया।



उन्होंने कहा, ‘‘ हम अब भी दौड़ में बने हुए है। हम बहरीन का सामना करने के लिए तैयार है। टीम के तौर पर हम एकजुट है। हम मैदान में दमखम दिखाने के लिए तैयार है। बहरीन के खिलाफ हमारी योजना ही होगी।’’



यूएई के खिलाफ भारतीय टीम कई करीबी मौकों पर चूक गयी और दो बार गेंद गोलपोस्ट से टकराकर निकल गया।



कांस्टेनटाइन ने कहा, ‘‘ मैंने खिलाड़ियों को कह दिया है कि आप कल का मैच हारे नहीं है। आपने दिखाया है कि आप क्या कर सकते है। यहां तक की उनकी टीम भी हमारे खेल को देखकर आश्चर्यचकित थी और उन्हें विश्वास नहीं हो रहा था कि हमारी टीम इतनी बेहतरीन है। ऐसे मैचों से हम सिर्फ और बेहतर हो सकते है। यूएई के खिलाफ हमारे पास गोल करने के लिए चार मौके थे। यूएई अपने मौके को भुनाने में सफल रहा।’’



  • अपनी टिप्पणी पोस्ट करे ।
  • इस खण्ड में