18 Feb 2019, 12:8 HRS IST
  • पुलवामा हमला: कैबिनेट की बैठक में भाग लेते प्रधानमंत्री व अन्य मंत्रीगण
    पुलवामा हमला: कैबिनेट की बैठक में भाग लेते प्रधानमंत्री व अन्य मंत्रीगण
    जम्मू: पुलवामा हमले के विरोध में प्रदर्शन करते लोग
    जम्मू: पुलवामा हमले के विरोध में प्रदर्शन करते लोग
    पुलवामा हमले के शहीदों को श्रद्धांजलि देते हुये गृहमंत्री राजनाथ सिंह
    पुलवामा हमले के शहीदों को श्रद्धांजलि देते हुये गृहमंत्री राजनाथ सिंह
    नयी दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी नयी ट्रेन वंदे भारत को हरी झंडी दिखाते हुये
    नयी दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी नयी ट्रेन वंदे भारत को हरी झंडी दिखाते हुये
PTI
PTI
Select
खबर
Skip Navigation Linksहोम राष्ट्रीय
login
  • सबस्क्राइबर
  • यूज़र नाम
  • पासवर्ड   
  • याद रखें
ad
add
add
  • जहानाबाद में भी बर्ड फ्लू का मामला सामने आया

  • विज्ञापन
  • [ - ] फ़ॉन्ट का आकार [ + ]
पीटीआई-भाषा संवाददाता 23:51 HRS IST

जहानाबाद, 11 फरवरी (भाषा) बिहार के जहानाबाद जिले में एक मृत कौवे में बर्ड फ्लू की पुष्टि हुई है। एक अधिकारी ने सोमवार को यह जानकारी दी।

जहानाबाद के सिविल सर्जन डॉक्टर दिलीप कुमार ने बताया कि मृत कौवा की जांच के लिए उसे जहानाबाद से भोपाल भेजा गया था और बर्ड फ्लू के वायरस एच5एन1 पाए जाने की पुष्टि हुई है।

उन्होंने बताया की गत एक फरवरी को जहानाबाद कलेक्ट्रेट परिसर में कई कौवे मृत पाए गए थे जिनमें से दो मृत कौवों के नमूनों को जांच के लिए भोपाल की लैब में भेजा गया था।

कुमार ने बताया कि जहानाबाद में बर्ड फ्लू को लेकर हाई अलर्ट जारी कर दिया गया है। पशुपालन विभाग को सभी पोल्ट्री फार्म से मुर्गों के नमूने लेकर जांच के लिए भेजने का निर्देश दिया गया है। जगह-जगह ब्लीचिंग पाउडर का छिड़काव कराया जा रहा है।

उन्होंने बताया कि बर्ड फ्लू की दवा सदर अस्पताल में उपलब्ध है और वहां एक आइसोलेशन वार्ड बनाया गया है जहां किसी भी संभावित रोगी की जांच के लिए नमूना एकत्रित करने के लिए एक टीम रखी गई है।

राजधानी पटना, मुंगेर, मुजफ्फरपुर में बर्ड फ्लू फैलने की जानकारी मिलने के बाद मुंगेर और पटना जिला में सैकड़ों मुर्गियों को मार दिया गया था।

बता दें कि पटना स्थित संजय गांधी जैविक उद्यान में बर्ड फ्लू के कारण कुछ मोरों की मौत के बाद से गत 25 दिसंबर के बाद से वहां प्रवेश बंद है।

संजय गांधी जैविक उद्यान में एच5एन1 वायरस के कारण छह मोरों की मौत हो चुकी है।

  • अपनी टिप्पणी पोस्ट करे ।