24 Jul 2019, 08:47 HRS IST
  • बाबरी मस्जिद प्रकरण: सुनवाई पूरी करने के लिये विशेष जज न्यायालय से छह माह का और वक्त चाहते हैं
    बाबरी मस्जिद प्रकरण: सुनवाई पूरी करने के लिये विशेष जज न्यायालय से छह माह का और वक्त चाहते हैं
    कर्नाटक संकट- न्यायालय ने इस्तीफों और अयोग्यता मुद्दे पर स्पीकर को 16 जुलाई तक निर्णय से रोका
    कर्नाटक संकट- न्यायालय ने इस्तीफों और अयोग्यता मुद्दे पर स्पीकर को 16 जुलाई तक निर्णय से रोका
    कांग्रेस में इस्तीफे का सिलसिला जारी, सिंधिया और देवड़ा ने भी अपना-अपना पद छोड़ा
    कांग्रेस में इस्तीफे का सिलसिला जारी, सिंधिया और देवड़ा ने भी अपना-अपना पद छोड़ा
    मोदी ने आबे के साथ भगोड़े आर्थिक अपराधियों और आपदा प्रबंधन के मुद्दे पर चर्चा की
    मोदी ने आबे के साथ भगोड़े आर्थिक अपराधियों और आपदा प्रबंधन के मुद्दे पर चर्चा की
PTI
PTI
Select
खबर
Skip Navigation Linksहोम राष्ट्रीय
login
  • सबस्क्राइबर
  • यूज़र नाम
  • पासवर्ड   
  • याद रखें
ad
add
add
  • इस बार का चुनाव मामूली चुनाव नहीं है: सोनिया

  • विज्ञापन
  • [ - ] फ़ॉन्ट का आकार [ + ]
पीटीआई-भाषा संवाददाता 23:24 HRS IST

रायबरेली , 22 अप्रैल (भाषा) संप्रग अध्यक्ष और रायबरेली लोकसभा सीट से कांग्रेस उम्मीदवार सोनिया गांधी ने सोमवार को कहा कि इस बार का चुनाव मामूली चुनाव नहीं है। उन्होंने कहा कि इस बार के चुनाव में तय होना है कि देश में संविधान को नष्ट करने वालों का राज रहेगा या फिर संविधान के सम्मान को कायम रखने वालों का।

उन्होंने कहा, ‘‘मुझे इस बात पर गर्व है कि चाहे अच्छा वक्त रहा हो या बुरा, हमेशा सब ने दिलो जान से मेरा साथ दिया। मुझे ताकत दी। मेरे आत्मविश्वास को बढ़ाया। इस पारिवारिक रिश्ते की वजह से आप सबके प्यार और समर्पण को शब्दों में व्यक्त करना मेरे लिए मुश्किल है।’’ गांधी ने सोमवार की शाम यहां के भुएमऊ गेस्ट हाउस में कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कहा कि मौजूदा चुनाव दूसरे चुनाव से अलग है। इस चुनाव से देश का भविष्य, आने वाली पीढ़ियों का भविष्य और समाज के हर तबके का भविष्य जुड़ा है। इसलिए एक-एक कांग्रेस जन का कर्तव्य है कि वह पूरी जागरूकता के साथ अपनी जिम्मेदारी निभाएं।

उन्होंने कहा कि रायबरेली में हुए विकास के सभी काम आपके सामने हैं। रेलकोच फैक्ट्री, नेशनल हाईवे, एम्स, फ्लाई ओवर, इंजीनियरिंग कॉलेज और दूसरे कई संस्थान और कार्य आपके सामने हैं।

संप्रग अध्यक्ष ने कहा, ‘‘हमने प्रधानमंत्री जी का दायित्वबोध तो उसी दिन समझ लिया था जब उन्होंने कहा था कि हमारा तो क्या है हम तो अपना झोला उठाकर चल देंगे।’’

उन्होंने कहा कि ऐसा गैर जिम्मेदार प्रधानमंत्री पहले कभी देश ने नहीं देखा था।

  • अपनी टिप्पणी पोस्ट करे ।