23 Jul 2019, 06:42 HRS IST
  • बाबरी मस्जिद प्रकरण: सुनवाई पूरी करने के लिये विशेष जज न्यायालय से छह माह का और वक्त चाहते हैं
    बाबरी मस्जिद प्रकरण: सुनवाई पूरी करने के लिये विशेष जज न्यायालय से छह माह का और वक्त चाहते हैं
    कर्नाटक संकट- न्यायालय ने इस्तीफों और अयोग्यता मुद्दे पर स्पीकर को 16 जुलाई तक निर्णय से रोका
    कर्नाटक संकट- न्यायालय ने इस्तीफों और अयोग्यता मुद्दे पर स्पीकर को 16 जुलाई तक निर्णय से रोका
    कांग्रेस में इस्तीफे का सिलसिला जारी, सिंधिया और देवड़ा ने भी अपना-अपना पद छोड़ा
    कांग्रेस में इस्तीफे का सिलसिला जारी, सिंधिया और देवड़ा ने भी अपना-अपना पद छोड़ा
    मोदी ने आबे के साथ भगोड़े आर्थिक अपराधियों और आपदा प्रबंधन के मुद्दे पर चर्चा की
    मोदी ने आबे के साथ भगोड़े आर्थिक अपराधियों और आपदा प्रबंधन के मुद्दे पर चर्चा की
PTI
PTI
Select
खबर
Skip Navigation Linksहोम राष्ट्रीय
login
  • सबस्क्राइबर
  • यूज़र नाम
  • पासवर्ड   
  • याद रखें
ad
add
add
  • पुरी में रथ वापसी महोत्सव आयोजित

  • विज्ञापन
  • [ - ] फ़ॉन्ट का आकार [ + ]
पीटीआई-भाषा संवाददाता 15:47 HRS IST

पुरी, 12 जुलाई (भाषा) लाखों भक्तों ने शुक्रवार को पुरी में कड़ी सुरक्षा के बीच भगवान जगन्नाथ के रथ वापसी महोत्सव ‘बाहुड़ा यात्रा’ में भाग लिया।

चार जुलाई को सालाना रथ यात्रा और अब रथ वापसी महोत्सव ऐसे समय आयोजित हुए हैं जब दो महीने पहले चक्रवात फोनी ने पुरी में बड़े पैमाने पर तबाही मचाई थी जिसमें 64 लोगों की जान गई थी।

‘बाहुड़ा यात्रा’ के दौरान, भगवान जगन्नाथ, भगवान बालभद्र और देवी सुभद्रा वार्षिक नौ दिन के गुंडिचा मंदिर के अपने प्रवास को पूरा करके लकड़ी के तीन भव्य रथों में श्री मंदिर या श्री जगन्नाथ मंदिर वापस लौटते हैं।

गुंडिचा मंदिर से मूर्तियों को बाहर लाने से पहले विशेष पूजा अर्चना की गई और फिर इन मूर्तियों को वापस लाने के लिए तीन सुसज्जित रथों पर विराजा गया। इस दौरान भक्त ‘जय जगन्नाथ’ और ‘हरि बोल’ के नारे लगा रहे थे।

भगवान जगन्नाथ को 45 फुट ऊंचे रथ ‘नंदीघोष’, भगवान बालभद्र को 44 फुट ऊंचे रथ ‘तालध्वज’ और सुभद्रा को 43 फुट ऊंचे रथ ‘दर्पदलन’ में विराजा गया।

गुंडिचा मंदिर से श्री जगन्नाथ मंदिर की दूरी करीब तीन किलोमीटर है।

एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने कहा कि महोत्सव के दौरान शांति सुनिश्चित करने के लिए पुलिसकर्मियों और अर्द्धसैनिक बलों की तैनाती की गई है।

  • अपनी टिप्पणी पोस्ट करे ।