02 Jun 2020, 13:37 HRS IST
  • लॉकडाउन के बीच दिल्ली से अपने घर लौटते प्रवासी श्रमिक
    लॉकडाउन के बीच दिल्ली से अपने घर लौटते प्रवासी श्रमिक
    प्रधानमंत्री ने कोरोना वायरस के मद्देनजर 21 दिनों के राष्ट्रव्यापी लॉकडालन की घोषणा की
    प्रधानमंत्री ने कोरोना वायरस के मद्देनजर 21 दिनों के राष्ट्रव्यापी लॉकडालन की घोषणा की
    कोरोना वायरस के मद्देनजर नयी दिल्ली में लोग एहतियात बरतते हुये
    कोरोना वायरस के मद्देनजर नयी दिल्ली में लोग एहतियात बरतते हुये
    चीन के वुहान शहर में कोरोना वायरस की जांच करते चिकित्साकर्मी
    चीन के वुहान शहर में कोरोना वायरस की जांच करते चिकित्साकर्मी
PTI
PTI
Select
खबर
Skip Navigation Linksहोम विदेश
login
  • सबस्क्राइबर
  • यूज़र नाम
  • पासवर्ड   
  • याद रखें
ad
add
add
  • सिर्फ बाली ही नहीं, और अधिक पर्यटन स्थलों को विकसित करने के प्रयास में है इंडोनेशिया

  • विज्ञापन
  • [ - ] फ़ॉन्ट का आकार [ + ]
पीटीआई-भाषा संवाददाता 12:1 HRS IST

योग्याकार्ता (इंडोनेशिया), 13 अगस्त (एपी) सैकड़ों पर्यटक, उनमें से कई पश्चिमी देशों के युवा, दुनिया के सबसे बड़े बौद्ध मंदिर की ग्रे पत्थर की सीढ़ियों पर बैठे, कभी-कभी अपने सेलफोन को देखते या एक-दूसरे से गुफ्तगू करते हुए दिख रहे हैं क्योंकि वे सब सूर्योदय की प्रतीक्षा कर रहे हैं।

यह नजारा है इंडोनेशिया के मध्य जावा प्रांत में स्थित बोरोबुदुर मंदिर का, जहां सूर्यादय का दृश्य देखने के लिए दुनियाभर से लोग भारी संख्या में जुटते हैं। भोर का शानादार नजारा- सैकड़ों बुद्ध प्रतिमाओं पर पड़ती सूर्योदय की लालिमा और मूर्तियों की शानदार नक्काशियां- एक यादगार अनुभव प्रदान कर जाती हैं।

9वीं शताब्दी का यह मंदिर इंडोनेशिया के जावा द्वीप के केंद्र में है, जो कि घनी आबादी वाला क्षेत्र है।

बोरोबुदुर, यूनेस्को की विश्व धरोहर स्थल में शामिल है। जावा द्वीप पर आकर्षण का एक अन्य मुख्य केंद्र प्रम्बनन का विशाल हिंदू मंदिर परिसर है। इसके अलावा देश के सबसे सक्रिय ज्वालामुखी माउंट मेरापी भी यहीं मौजूद है।

ये दोनों पवित्र स्थल दुनियाभर के पर्यटकों को अपनी ओर आकर्षित करते हैं, अन्य विदेशी लोग बाली के आरामदायक समुद्र तटों पर जाते हैं, जो जावा के पूर्व में स्थित है और हजारों द्वीपों और लगभग 27 करोड़ लोगों के देश में अब तक का सबसे लोकप्रिय पर्यटन स्थल है।

आधिकारिक आंकड़ों के अनुसार, पिछले साल 60 लाख से अधिक पर्यटकों ने बाली की यात्रा की थी, जो इंडोनेशिया आये 1.58 करोड़ आगंतुकों का लगभग 40 प्रतिशत है।

हाल ही में फिर से निर्वाचित हुए राष्ट्रपति जोको विडोडो पर्यटन को बढ़ावा देने और दक्षिण पूर्व एशिया की सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था में विविधता लाने के लिए एक महत्वाकांक्षी योजना ‘‘10 नये बाली’’ को लाकर इसे बदलना चाहते हैं।

  • अपनी टिप्पणी पोस्ट करे ।
  • इस खण्ड में