16 Oct 2019, 08:45 HRS IST
  • मामल्लापुरम: भारत और चीन के बीच वार्ता का दृश्य
    मामल्लापुरम: भारत और चीन के बीच वार्ता का दृश्य
    नयी दिल्ली: केंद्रीय सूचना आयोग के 14वें वार्षिक सम्मेलन में बोलते गृह मंत्री अमित शाह
    नयी दिल्ली: केंद्रीय सूचना आयोग के 14वें वार्षिक सम्मेलन में बोलते गृह मंत्री अमित शाह
    मामल्लापुरम:चीनी राष्ट्रपति शी चिनफिंग के स्वागत में प्रस्तुति देते कलाकार
    मामल्लापुरम:चीनी राष्ट्रपति शी चिनफिंग के स्वागत में प्रस्तुति देते कलाकार
    मामल्लापुरम में सुबह का सैर करते प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी
    मामल्लापुरम में सुबह का सैर करते प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी
PTI
PTI
Select
खबर
Skip Navigation Linksहोम खेल
login
  • सबस्क्राइबर
  • यूज़र नाम
  • पासवर्ड   
  • याद रखें
ad
add
add
  • आस्ट्रेलिया की नजरें 18 साल में इंग्लैंड में पहली एशेज श्रृंखला जीतने पर

  • विज्ञापन
  • [ - ] फ़ॉन्ट का आकार [ + ]
पीटीआई-भाषा संवाददाता 13:21 HRS IST

लंदन, 11 सितंबर (एएफपी) आस्ट्रेलियाई टीम चौथे टेस्ट के लिये गुरूवार को उतरेगी तो उसका लक्ष्य 2001 के बाद इंग्लैंड में पहली एशेज श्रृंखला जीतना होगा और शानदार फार्म में चल रहे स्टीव स्मिथ उसके ‘ट्रंपकार्ड’ साबित होंगे ।

टिम पेन की टीम ने ओल्ड ट्रैफर्ड में इंग्लैंड को हराकर पांच मैचों की श्रृंखला में 2 . 1 से बढत बना ली । एक मैच बाकी रहते आस्ट्रेलिया ने एशेज अपने पास रखना सुनिश्चित कर लिया ।

श्रृंखला में बराबरी के लिये विश्व कप विजेता इंग्लैंड को स्मिथ के बल्ले पर अंकुश लगाना होगा जो पांच पारियों में 134 से अधिक की औसत से 671 रन बना चुके हैं ।

गेंद से छेड़खानी प्रकरण में एक साल का प्रतिबंध झेलने के बाद लौटे स्मिथ ने मैनचेस्टर में दोहरे शतक समेत तीन शतक और दो अर्धशतक जमाये हैं ।

आस्ट्रेलिया की ताकत उसकी तेज गेंदबाजी भी रही है । जोश हेजलवुड और दुनिया के नंबर एक गेंदबाज पैट कमिंस मिलकर 42 विकेट ले चुके हैं ।

दुनिया के नंबर एक टेस्ट बल्लेबाज और गेंदबाज के टीम में होने से आस्ट्रेलियाई कोच जस्टिन लैंगर की दिक्कतें भी कम हुई हैं । उन्होंने दूसरे खिलाड़ियों से भी अपेक्षा के अनुरूप प्रदर्शन करने का आग्रह किया है ।

उन्होंने कहा ,‘‘ उन्हें अनुभव हासिल करना होगा । हम खुशकिस्मत हैं कि स्टीव हमारी टीम में है । मैने किसी को कभी ऐसे बल्लेबाजी करते नहीं देखा । युवा बल्लेबाजों को उसका अनुसरण करना होगा ।’’

दूसरी ओर 50 ओवरों का विश्व कप पहली बार जीतने वाली इंग्लैंड टीम श्रृंखला में बराबरी के इस आखिरी मौके को गंवाना नहीं चाहेगी ।

टेस्ट क्रिकेट में विफलता के बाद जो रूट की टीम में स्थिति पर सवाल उठने लगे हैं । निवतृमान कोच ट्रेवर बेलिस ने हालांकि उनका बचाव किया है ।

उन्होंने कहा ,‘‘ वह किसी तरह से दबाव में नहीं है । उससे कोई सवाल नहीं किये जा रहे हैं । हर किसी के कैरियर में ऐसा दौर आता है कि रन नहीं बनते लेकिन आस्ट्रेलियाई गेंदबाजों ने भी शानदार प्रदर्शन किया है ।’’

विश्व कप के स्टार बल्लेबाज बेन स्टोक्स इंग्लैंड की 13 सदस्यीय टीम में है लेकिन उनकी फिटनेस का आकलन किया जायेगा । वह नहीं खेलते हैं तो सैम कुरेन या क्रिस वोक्स में से एक को जगह मिलेगी ।

एएफपी मोना मोना 1109 1241 लंदन

  • अपनी टिप्पणी पोस्ट करे ।