21 Sep 2019, 06:39 HRS IST
  • पाकिस्तान ने मोदी के लिए वायु क्षेत्र खोलने का भारत का अनुरोध ठुकराया
    पाकिस्तान ने मोदी के लिए वायु क्षेत्र खोलने का भारत का अनुरोध ठुकराया
    प्रख्यात अधिवक्ता राम जेठमलानी का निधन
    प्रख्यात अधिवक्ता राम जेठमलानी का निधन
    लैंडर ‘विक्रम’ का जमीनी स्टेशन से संपर्क टूटा, प्रधानमंत्री ने कहा- जीवन में उतार-चढ़ाव आते रहते हैं
    लैंडर ‘विक्रम’ का जमीनी स्टेशन से संपर्क टूटा, प्रधानमंत्री ने कहा- जीवन में उतार-चढ़ाव आते रहते हैं
    ‘विक्रम’ की सॉफ्ट लैंडिंग की सभी तैयारियां पूरी
    ‘विक्रम’ की सॉफ्ट लैंडिंग की सभी तैयारियां पूरी
PTI
PTI
Select
खबर
Skip Navigation Linksहोम अर्थ
login
  • सबस्क्राइबर
  • यूज़र नाम
  • पासवर्ड   
  • याद रखें
ad
add
add
  • एअर इंडिया के वरिष्ठ पायलट अतुल चंद्रा ईडी जांच के दायरे में

  • विज्ञापन
  • [ - ] फ़ॉन्ट का आकार [ + ]
पीटीआई-भाषा संवाददाता 21:31 HRS IST

मुंबई , 12 सितंबर (भाषा) एअर इंडिया के वरिष्ठ पायलट अतुल चंद्रा वित्तीय अनियमितता के आरोप में प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) की जांच के दायरे में हैं। चंद्रा को हाल ही में नागर विमानन महानिदेशालय (डीजीसीए) में प्रतिनियुक्ति से वापस बुलाया गया है। एक सूत्र ने बृहस्पतिवार को यह बात कही।

सूत्र के मुताबिक , ईडी ने एअर इंडिया से चंद्रा के वित्तीय लेनदेन से जुड़े दस्तावेज मांगे हैं। चंद्रा के खिलाफ जून में शिकायत मिली थी।

जांच एजेंसी ईडी मनी लॉन्ड्रिंग और विदेशी मुद्रा विनिमय प्रबंधन के उल्लंघन के मामले में जांच कर रही है।

प्रवर्तन निदेशालय ने एअर इंडिया को भेजे गए पत्र में अनुरोध किया है कि यदि एयरलाइन को चंद्रा के खिलाफ " धन शोधन रोकथाम अधिनियम और विदेशी मुद्रा विनियम प्रबंध अधिनियम से जुड़ी प्रासंगिक जानकारी मिले तो उन्हें सूचित करे। " पीटीआई-भाषा ने पत्र की प्रति को देखा है।

एअर इंडिया के प्रवक्ता इस पर टिप्पणी के लिए मौजूद नहीं हैं।

उल्लेखनीय है कि चंद्रा हाल ही में डीजीसीए में प्रतिनियुक्त पर तैनाती के दौरान दो वेतन लेने को लेकर सुर्खियों में आए थे। प्रतिनियुक्त पर जब वह मुख्य उड़ान परिचालन निरीक्षक के पद पर थे तो उन्होंने विमानन नियामक और एअर इंडिया दोनों जगह से वेतन लिया था।

इसी के चलते उन्हें प्रतिनियुक्ति से वापस बुला लिया गया और एयरलाइन ने इसकी जांच की।

कथित तौर पर जांच में पाया गया है कि चंद्रा ने प्रतिनियुक्ति के दौरान डीजीसीए से वेतन लेने के अलावा एअर इंडिया से कुल 2.8 करोड़ रुपये का वेतन लिया। कर के बाद वेतन 1.9 करोड़ रुपये था।

इसके बाद , एअर इंडिया ने उन्हें वेतन लौटाने को कहा तो उन्होंने केवल 80 लाख रुपये वापस किये। प्रतिनियुक्ति से पहले जनवरी 2017 में वह एअर इंडिया में संयुक्त महाप्रबंधक के पद पर थे।

  • अपनी टिप्पणी पोस्ट करे ।
  • इस खण्ड में