26 May 2020, 16:27 HRS IST
  • लॉकडाउन के बीच दिल्ली से अपने घर लौटते प्रवासी श्रमिक
    लॉकडाउन के बीच दिल्ली से अपने घर लौटते प्रवासी श्रमिक
    प्रधानमंत्री ने कोरोना वायरस के मद्देनजर 21 दिनों के राष्ट्रव्यापी लॉकडालन की घोषणा की
    प्रधानमंत्री ने कोरोना वायरस के मद्देनजर 21 दिनों के राष्ट्रव्यापी लॉकडालन की घोषणा की
    कोरोना वायरस के मद्देनजर नयी दिल्ली में लोग एहतियात बरतते हुये
    कोरोना वायरस के मद्देनजर नयी दिल्ली में लोग एहतियात बरतते हुये
    चीन के वुहान शहर में कोरोना वायरस की जांच करते चिकित्साकर्मी
    चीन के वुहान शहर में कोरोना वायरस की जांच करते चिकित्साकर्मी
PTI
PTI
Select
खबर
Skip Navigation Linksहोम राष्ट्रीय
login
  • सबस्क्राइबर
  • यूज़र नाम
  • पासवर्ड   
  • याद रखें
ad
add
add
  • दिल्ली के चिड़ियाघर में बंगाल टाइगर की मौत

  • विज्ञापन
  • [ - ] फ़ॉन्ट का आकार [ + ]
पीटीआई-भाषा संवाददाता 21:42 HRS IST

नयी दिल्ली, 20 सितंबर (भाषा) दिल्ली के चिड़ियाघर में शुक्रवार को आठ साल के एक बंगाल टाइगर की विभिन्न अंगों के निष्क्रिय हो जाने के कारण मौत हो गयी।

अधिकारियों ने बताया कि रामा नामक इस बाघ की एक बजे मौत हो गयी।

इस चिड़ियाघर में अप्रैल, 2018 से जून, 2019 तक 245 जानवरों की मौत हुई है। इससे जानवरों की करीब 10 प्रजातियां की पूरी जमात समाप्त हो गयी । उनमें चिंकारा, वाटर मॉनिटर लिजार्ड , मृदु कवच वाले कछुए एवं शुतुरमुर्ग आदि शामिल हैं।

अधिकारियों के अनुसार अंत्य परीक्षण से खुलासा हुआ है कि विभिन्न अंगों के काम करना बंद कर देने के चलते रामा मर गया।

दिल्ली सरकार और चंडीगढ़ छतबीर चिड़ियाघर के पशु विशेषज्ञों की एक टीम ने पोस्टमार्टम किया।

आमतौर पर बाघ ऐसे स्थानों पर करीब 20 सालों तक जीता है।

पहले रामा की ब्लड रिपोर्ट से फॉस्फोरस और क्रेटिनाइन की बहुत अधिक मात्रा का संकेत मिला जिससे किडनी पर असर पड़ा।

एक अन्य अधिकारी ने बताया कि यह बाघ 27 जुलाई से बीमार था और खाना भी ढंग से नहीं खा रहा था। वह बहुत कमजोर हो गया था। उसे 2014 में मैसूर के चिड़ियाघर से यहां लाया गया था।

अधिकारियों के अनुसार बरेली के भारतीय पशु चिकित्सा अनुसंधान संस्थान और मथुरा के पशु चिकित्सा अधिकारियों का एक दल उसका इलाज कर रहा था। चिड़ियाघर प्रशासन ने चंडीगढ़ के छतबीर चिड़ियाघर से डॉ एन पी सिंह को बुलाया था जो बाघ का इलाज करने में विशेषज्ञ हैं।

इस बाघ ने 10 सितंबर को चिड़ियाघर के कर्मचारी फतह सिंह पर हमला किया था। वह कर्मचारी उसके बर्तन में पानी भरने गया था।

अधिकारियों के अनुसार केंद्रीय चिड़ियाघर प्राधिकरण के सदस्य सचिव एस पी यादव ने इस बंगाल टाइगर के खराब स्वास्थ्य से जुड़ी स्थितियों की जांच के लिए शुक्रवार सुबह तीन सदस्यीय समिति बनायी थी।

इस समिति को दिल्ली के चिड़ियाघर खासकर पशुओं के बाड़ों की स्वच्छता की स्थिति की समीक्षा करने और तीन दिन में रिपोर्ट देने को कहा गया है।

अधिकारियों के अनुसार चिड़ियाघर के अंदर ही रामा का पोस्टमार्टम किया गया।

  • अपनी टिप्पणी पोस्ट करे ।