26 May 2020, 16:3 HRS IST
  • लॉकडाउन के बीच दिल्ली से अपने घर लौटते प्रवासी श्रमिक
    लॉकडाउन के बीच दिल्ली से अपने घर लौटते प्रवासी श्रमिक
    प्रधानमंत्री ने कोरोना वायरस के मद्देनजर 21 दिनों के राष्ट्रव्यापी लॉकडालन की घोषणा की
    प्रधानमंत्री ने कोरोना वायरस के मद्देनजर 21 दिनों के राष्ट्रव्यापी लॉकडालन की घोषणा की
    कोरोना वायरस के मद्देनजर नयी दिल्ली में लोग एहतियात बरतते हुये
    कोरोना वायरस के मद्देनजर नयी दिल्ली में लोग एहतियात बरतते हुये
    चीन के वुहान शहर में कोरोना वायरस की जांच करते चिकित्साकर्मी
    चीन के वुहान शहर में कोरोना वायरस की जांच करते चिकित्साकर्मी
PTI
PTI
Select
खबर
Skip Navigation Linksहोम राष्ट्रीय
login
  • सबस्क्राइबर
  • यूज़र नाम
  • पासवर्ड   
  • याद रखें
ad
add
add
  • दंतेवाड़ा उपचुनाव के लिए प्रचार समाप्त

  • विज्ञापन
  • [ - ] फ़ॉन्ट का आकार [ + ]
पीटीआई-भाषा संवाददाता 18:2 HRS IST

रायपुर, 21 सितंबर (भाषा) छत्तीगसढ़ के नक्सल प्रभावित दंतेवाड़ा विधानसभा सीट के लिए होने वाले उपचुनाव के लिए प्रचार शनिवार दोपहर तीन बजे चुनाव समाप्त हो गया।

राज्य के मुख्य निर्वाचन अधिकारी कार्यालय के अधिकारियों ने यहां बताया कि दंतेवाड़ा विधानसभा सीट के लिए हो रहे उपचुनाव में आज दोपहर तीन बजे चुनाव प्रचार समाप्त हो गया है। इस सीट के लिए मतदान 23 सितम्बर को होना है।

अधिकारियों ने बताया कि विधानसभा क्षेत्र में चुनाव प्रचार के लिए अन्य जिलों से आए राजनीतिक पार्टियों के लोगों को विधानसभाक्षेत्र छोड़ने के लिए कह दिया गया है।

उन्होंने बताया कि क्षेत्र में अब चुनावी रैली और सभाएं नहीं होंगी। हालंकि प्रत्याशी घर घर जाकर अपने लिए चुनाव प्रचार कर सकते हैं।

अधिकारियों ने बताया कि दंतेवाड़ा विधानसभा क्षेत्र के लिए इस महीने की 23 तारीख को मतदान होगा। उपचुनाव में क्षेत्र के 188263 मतदाता हिस्सा लेंगे। जिनमें 89747 पुरूष मतदाता तथा 98876 महिला मतदाता शामिल हैं। क्षेत्र में मतदान के लिए 273 मतदान केंद्र स्थापित किये गए हैं। इस क्षेत्र में सुबह सात बजे से दोपहर तीन बजे तक मतदान होगा।

इस विधानसभा उपुचनाव में कुल नौ उम्मीदवार चुनाव मैदान में हैं। मुख्य मुकाबला सत्ताधारी कांग्रेस और मुख्य विपक्षी दल भारतीय जनता पार्टी के बीच है।

कांग्रेस ने दंतेवाड़ा सीट के लिए देवती कर्मा पर भरोसा किया है। देवती कर्मा पूर्व नेता प्रतिपक्ष महेंद्र कर्मा की पत्नी हैं। वर्ष 2013 में झीरम घाटी हमले में नक्सलियों ने महेंद्र कर्मा की हत्या कर दी थी।

वहीं भाजपा ने विधायक रहे भीमा मंडावी की पत्नी ओजस्वी मंडावी को चुनाव मैदान में उतारा है।

इस वर्ष हुए लोकसभा चुनाव के दौरान नौ अप्रैल को चुनाव प्रचार पर निकले विधायक भीमा मंडावी के वाहन को नक्सलियों ने विस्फोट करके उड़ा दिया था। इस हमले में मंडावी और चार अन्य सुरक्षाकर्मियों की मृत्यु हो गई थी।

वर्ष 2018 के विधानसभा चुनाव में कांग्रेस की देवती कर्मा भाजपा के भीमा मंडावी से 2172 मतों से हार गई थीं। इस चुनाव में दंतेवाड़ा सीट, बस्तर क्षेत्र की 12 विधानसभा सीटों में से एकमात्र ऐसी सीट थी जिस पर भाजपा जीती थी।

इससे पहले 2013 के विधानसभा चुनाव में देवती कर्मा ने भीमा मंडावी को हाराया था।

दंतेवाड़ा विधानसभा उपचुनाव के लिए सत्ताधारी पार्टी की ओर से मुख्यमंत्री भूपेश बघेल, उनके मंत्रिमंडल के सदस्यों तथा अन्य वरिष्ठ नेताओं ने चुनाव प्रचार किया। वहीं विपक्षी दल भाजपा की ओर से पूर्व मुख्यमंत्री रमन सिंह, पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष विक्रम उसेंडी और नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक समेत अन्य वरिष्ठ नेताओं ने प्रचार किया।

कांग्रेस ने चुनाव प्रचार के दौरान राज्य सरकार द्वारा किए गए काम, खासकर किसानों की कर्ज माफी और 2500 रूपए में धान खरीदी को मुद्दा बनाया। वहीं भाजपा ने राज्य सरकार पर आरोप लगाया कि वह बदले की भावना से कार्य कर रही है।

वर्ष 2018 में हुए विधानसभा चुनाव में राज्य में कांग्रेस ने 90 में से 68 सीटों पर जीत हासिल की थी। वहीं भाजपा को 15 सीटें मिली थीं जबकि बहुजन समाज पार्टी ने दो सीटों पर तथा जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ (जे) ने पांच सीटों पर जीत हासिल की थी।

  • अपनी टिप्पणी पोस्ट करे ।