16 Oct 2019, 08:44 HRS IST
  • मामल्लापुरम: भारत और चीन के बीच वार्ता का दृश्य
    मामल्लापुरम: भारत और चीन के बीच वार्ता का दृश्य
    नयी दिल्ली: केंद्रीय सूचना आयोग के 14वें वार्षिक सम्मेलन में बोलते गृह मंत्री अमित शाह
    नयी दिल्ली: केंद्रीय सूचना आयोग के 14वें वार्षिक सम्मेलन में बोलते गृह मंत्री अमित शाह
    मामल्लापुरम:चीनी राष्ट्रपति शी चिनफिंग के स्वागत में प्रस्तुति देते कलाकार
    मामल्लापुरम:चीनी राष्ट्रपति शी चिनफिंग के स्वागत में प्रस्तुति देते कलाकार
    मामल्लापुरम में सुबह का सैर करते प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी
    मामल्लापुरम में सुबह का सैर करते प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी
PTI
PTI
Select
खबर
Skip Navigation Linksहोम विदेश
login
  • सबस्क्राइबर
  • यूज़र नाम
  • पासवर्ड   
  • याद रखें
ad
add
add
  • उम्मीद है कि उत्तरी सीरिया में तुर्की विवेकपूर्ण ढंग से काम करेगा: ट्रंप

  • विज्ञापन
  • [ - ] फ़ॉन्ट का आकार [ + ]
पीटीआई-भाषा संवाददाता 9:33 HRS IST

वाशिंगटन, 10 अक्टूबर (भाषा) सीरिया के कुर्द बलों पर तुर्की के बुधवार के हमले के बीच अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने कहा है कि वह उम्मीद करते हैं कि तुर्की ‘विवेकपूर्ण ढंग’ से काम करेगा।



ट्रंप ने तुर्की को ऐसी चेतावनी दी है जो एक तरह से उसकी अर्थव्यवस्था को गंभीर संकट में डाल सकती है। अमेरिकी राष्ट्रपति ने कहा कि अंकारा उत्तरी सीरिया में जहां तक हो सके मानवीय तरीके से अभियान चलाए अन्यथा वह प्रतिबंधों से इतर भी कड़े कदम उठाने पर विचार करेंगे।



व्हाइट हाउस में संवाददताओं ने ट्रंप से प्रश्न किया कि कहीं तुर्की के राष्ट्रपति रजब तैयब एर्दोआन कुर्दों का सफाया तो नहीं कर देंगे, इस पर अमेरिकी राष्ट्रपति ने कहा, ‘‘अगर ऐसा हुआ तो मैं उनकी (तुर्की) अर्थव्यवस्था को मिटा दूंगा। ’’



उन्होंने कहा कि उन्हें उम्मीद है कि तुर्की के राष्ट्रपति उत्तरी सीरिया में अभियान चलाने में विवेक का इस्तेमाल करेंगे।



उन्होंने कहा, ‘‘मैं आपको बताता हूं कि मैं प्रतिबंधों पर सहमत हूं लेकिन मेरा वास्तव में मानना है कि अगर वह जहां तक हो सके मानवीय ढंग से इसे नहीं करते तो प्रतिबंधों से भी ज्यादा कठोर किसी कदम के बारे में सोचा जा सकता है। (सांसद) लिंडसे ग्राहम और मेरे विचार इस पर अलग हैं। मैं सोचता हूं कि लिंडसे वहां अगले 200 साल तक बने रहना चाहेंगे और शायद हर स्थान पर हजारों और लोगों को रखना चाहेंगे, लेकिन इस पर लिंडसे से मेरे विचार अलग हैं।’’

‘‘मानवीय’’ तरीके से उनका क्या आशय है इस पर उन्होंने कहा कि वह स्थिति को देखने और समझने की नीति अपनाएंगे।



  • अपनी टिप्पणी पोस्ट करे ।
  • इस खण्ड में