16 Oct 2019, 07:47 HRS IST
  • मामल्लापुरम: भारत और चीन के बीच वार्ता का दृश्य
    मामल्लापुरम: भारत और चीन के बीच वार्ता का दृश्य
    नयी दिल्ली: केंद्रीय सूचना आयोग के 14वें वार्षिक सम्मेलन में बोलते गृह मंत्री अमित शाह
    नयी दिल्ली: केंद्रीय सूचना आयोग के 14वें वार्षिक सम्मेलन में बोलते गृह मंत्री अमित शाह
    मामल्लापुरम:चीनी राष्ट्रपति शी चिनफिंग के स्वागत में प्रस्तुति देते कलाकार
    मामल्लापुरम:चीनी राष्ट्रपति शी चिनफिंग के स्वागत में प्रस्तुति देते कलाकार
    मामल्लापुरम में सुबह का सैर करते प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी
    मामल्लापुरम में सुबह का सैर करते प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी
PTI
PTI
Select
खबर
Skip Navigation Linksहोम राष्ट्रीय
login
  • सबस्क्राइबर
  • यूज़र नाम
  • पासवर्ड   
  • याद रखें
ad
add
add
  • सड़क के गढ्ढे ने ली महिला डॉक्टर की जान

  • विज्ञापन
  • [ - ] फ़ॉन्ट का आकार [ + ]
पीटीआई-भाषा संवाददाता 12:50 HRS IST

ठाणे,10 अक्टूबर (भाषा) महाराष्ट्र के ठाणे जिले में 21 साल की एक डॉक्टर की एक वाहन से उस समय कट कर मौत हो गई जब गढ्ढे में फिसल कर अपने दो पहिया वाहन के साथ वह सड़क पर गिर पड़ी और एक ट्रक के नीचे आ गई। गुरुवार को पुलिस ने यह जानकारी दी।

सहायक पुलिस निरीक्षक महेश सागड़े ने बताया कि बुधवार देर रात कुडूस गांव की रहने वाली नेहा शेख भिवंडी शहर से अपने घर जा रही थी तभी यह दुर्घटना हुयी। मृतक महिला की अगले महीने शादी होने वाली थी।

महिला अपने भाई के साथ दोपहिया वाहन पर जा रही थी तभी दुगढ़ दोराहे के पास वाहन गढ्ढे में फिसलने से वह अपना संतुलन खोकर सड़क पर गिर गयी।

सागड़े ने बताया कि पास से गुजर रहा ट्रक महिला को रौंदते हुए निकल गया। ट्रक चालक मौके से फरार हो गया।

भारतीय दंड संहिता की धारा 304-ए(लापरवाही के कारण मौत) के तहत अज्ञात ट्रक चालक पर मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। अभी तक कोई गिरफ्तारी नहीं हुयी है।

बाद में, आदिवासी कल्याण के लिए काम करने वाले संगठन ‘श्रमजीवी संघटना’ के कई सदस्य दुर्घटनास्थल अनगाँव टोल बूथ पहुंचे और आधी रात को बूथ बंद करवा दिया।

संगठन के युवा वर्ग के अध्यक्ष प्रमोद पवार ने दावा किया कि इस साल गड्ढों से भरी सड़क कई लोगों की मोत का करण बन गयी। उन्होंने लोक निर्माण विभाग (पीडब्ल्यूडी) और सड़क निर्माण और रख-रखाव के लिए जिम्मेदार संस्था के खिलाफ कार्रवाई करने की मांग की।

उन्होंने कहा कि वे टोल बूथ को काम नहीं करने देंगे और अपनी मांग पूरी होने तक "शांतिपूर्ण आंदोलन" पर बैठे रहेंगे।

  • अपनी टिप्पणी पोस्ट करे ।