26 Feb 2020, 10:21 HRS IST
  • आशंकाओं के बावजूद 1.3 अरब भारतीयों ने महत्वपूर्ण न्यायिक निर्णयों का खुले दिल से स्वागत किया -  मोदी
    आशंकाओं के बावजूद 1.3 अरब भारतीयों ने महत्वपूर्ण न्यायिक निर्णयों का खुले दिल से स्वागत किया - मोदी
    एजीआर बकाया भुगतान संबंधी आदेश का अनुपालन नहीं होने पर न्यायालय ने अपनाया कड़ा रुख
    एजीआर बकाया भुगतान संबंधी आदेश का अनुपालन नहीं होने पर न्यायालय ने अपनाया कड़ा रुख
    एनआरसी व एनपीआर- कांग्रेस व भाजपा ने एक दूसरे पर साधा निशाना
    एनआरसी व एनपीआर- कांग्रेस व भाजपा ने एक दूसरे पर साधा निशाना
    'आरएसएस के प्रधानमंत्री' भारत माता से झूठ बोलते हैं- राहुल फोटो पीटीआई
    'आरएसएस के प्रधानमंत्री' भारत माता से झूठ बोलते हैं- राहुल फोटो पीटीआई
PTI
PTI
Select
खबर
Skip Navigation Linksहोम विदेश
login
  • सबस्क्राइबर
  • यूज़र नाम
  • पासवर्ड   
  • याद रखें
ad
add
add
  • बीमार शरीफ को रविवार को उपचार के लिए लंदन लेकर जाएंगे उनके भाई शहबाज

  • विज्ञापन
  • [ - ] फ़ॉन्ट का आकार [ + ]
पीटीआई-भाषा संवाददाता 11:0 HRS IST

लाहौर, नौ नवंबर (भाषा) पाकिस्तान मुस्लिम लीग नवाज (पीएमएल-एन) अध्यक्ष शहबाज शरीफ बीमारी से जूझ रहे अपने भाई एवं पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ को रविवार को उपचार के लिए लंदन लेकर जाएंगे।

नवाज शरीफ की बेटी मरयम नवाज ने मीडिया को बताया था कि 69 वर्षीय नवाज शरीफ चिकित्सकों की सलाह और परिवार के अनुरोध पर लंदन जाने को लेकर शुक्रवार को राजी हो गए।

‘जियो न्यूज’ ने सूत्रों के हवाले से बताया कि शहबाज रविवार को अपने भाई को चिकित्सीय उपचार के लिए लेकर जाएंगे।

रिपोर्ट में बताया गया कि नवाज शरीफ के उपचार के लिए हार्ले स्ट्रीट क्लीनिक में प्रबंध किए गए हैं। शहबाज और शरीफ रविवार को पाकिस्तान इंटरनेशनल एयरलाइंस (पीआईएल) के विमान से लंदन जाएंगे।

गौरतलब है कि शरीफ की पत्नी कुलसुम का गत वर्ष लंदन में गले के कैंसर के कारण निधन हो गया था।

लाहौर उच्च न्यायालय से बुधवार को जमानत पर रिहा की गई मरयम ने कहा था कि शरीफ अपनी गंभीर सेहत के कारण विदेश जाकर इलाज कराने पर राजी हो गए हैं।

शरीफ को बुधवार को लाहौर में उनके जट्टी उमरा रायविंड स्थित आवास ले जाया गया था। वह दो सप्ताह तक कई बीमारियों के इलाज के लिए पाकिस्तान के एक अस्पताल में भर्ती रहे थे। शरीफ (69) का प्लेटलेट काउंट अत्यधिक कम हो गया था जिसके बाद उन्हें 22 अक्टूबर को सर्विसेज हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया था। वह भ्रष्टाचार निरोधक इकाई की हिरासत में थे।

  • अपनी टिप्पणी पोस्ट करे ।
  • इस खण्ड में