26 May 2020, 16:27 HRS IST
  • लॉकडाउन के बीच दिल्ली से अपने घर लौटते प्रवासी श्रमिक
    लॉकडाउन के बीच दिल्ली से अपने घर लौटते प्रवासी श्रमिक
    प्रधानमंत्री ने कोरोना वायरस के मद्देनजर 21 दिनों के राष्ट्रव्यापी लॉकडालन की घोषणा की
    प्रधानमंत्री ने कोरोना वायरस के मद्देनजर 21 दिनों के राष्ट्रव्यापी लॉकडालन की घोषणा की
    कोरोना वायरस के मद्देनजर नयी दिल्ली में लोग एहतियात बरतते हुये
    कोरोना वायरस के मद्देनजर नयी दिल्ली में लोग एहतियात बरतते हुये
    चीन के वुहान शहर में कोरोना वायरस की जांच करते चिकित्साकर्मी
    चीन के वुहान शहर में कोरोना वायरस की जांच करते चिकित्साकर्मी
PTI
PTI
Select
खबर
Skip Navigation Linksहोम राष्ट्रीय
login
  • सबस्क्राइबर
  • यूज़र नाम
  • पासवर्ड   
  • याद रखें
ad
add
add
  • आगरा में थाइलैंड की युवती ने की खुदकुशी

  • विज्ञापन
  • [ - ] फ़ॉन्ट का आकार [ + ]
पीटीआई-भाषा संवाददाता 18:34 HRS IST

आगरा, 14 जनवरी (भाषा) थाना ताजगंज क्षेत्र के एक फ्लैट में थाइलैंड की युवती का शव मिलने से सनसनी फैल गयी। शव के पास से मिले सुसाइड नोट से पुलिस को लगता है कि उसने बेरोजगारी से परेशान होकर यह कदम उठाया।

इस संबंध में एसपी सिटी रोहन पी बोत्रे ने बताया कि उन्होंने मौके का निरीक्षण किया है और फोरेंसिक टीम ने घटना से सारे सुबूत एकत्रित कर लिये हैं। मृतका थाइलैंड की रहने वाली थी जो पैसे और नौकरी न होने की वजह से परेशान थी।

जानकारी के मुताबिक थाइलैंड की रहने वाली अंचली (43) 2018 से भारत में है। वह आगरा में स्पा सेंटर में काम करती थी और विभवनगर कॉलोनी स्थित एक अपार्टमेंट में रहती थी।

अपार्टमेंट में रहने वाले लोगों के मुताबिक कई दिनों से युवती के फ्लैट का दरवाजा बंद था। सोसायटी के लोगों को शक हुआ तो मंगलवार दोपहर को पुलिस को सूचित किया। सूचना पर मौके पर एसपी सिटी बोत्रे और सीओ सदर विकास जायसवाल पहुंच गये।

फ्लैट का दरवाजा तोड़कर पुलिस अंदर दाखिल हुई तो बिस्तर पर युवती का शव पड़ा हुआ था। शव के पास से मिले सुसाइड नोट में लिखा है- ‘‘नो मनी, नो जॉब, नो फैमिली। इसलिये मरना चाहती हूं। मैं कभी जीवन नहीं चाहती।’’

सुसाइड नोट में यह भी लिखा है कि उसकी पार्थिव देह का दाह संस्कार करके बाद में राख को यमुना में प्रवाहित किया जाये। जिससे आत्मा को शांति मिलेगी।

बोत्रे ने बताया कि उसने सुसाइड नोट में जो लिखा है उसके आधार पर यदि उसके शव को कोई लेने नहीं आता है तो पुलिस उसकी सुसाइड नोट में लिखी इच्छा पूरी करेगी।

  • अपनी टिप्पणी पोस्ट करे ।