21 Oct 2020, 10:44 HRS IST
  • न्यायाधीशों को निडर होकर लेने चाहिए निर्णय: न्यायमूर्ति एन.वी. रमण
    न्यायाधीशों को निडर होकर लेने चाहिए निर्णय: न्यायमूर्ति एन.वी. रमण
    गोयल को मिला उपभोक्ता मामले, खाद्य और सार्वजनिक वितरण मंत्रालय
    गोयल को मिला उपभोक्ता मामले, खाद्य और सार्वजनिक वितरण मंत्रालय
    पीआईएल:सुशांत मामले में अर्णब की रिपोर्टिंग भ्रामक होने का दावा
    पीआईएल:सुशांत मामले में अर्णब की रिपोर्टिंग भ्रामक होने का दावा
    प्रतिकूल परिस्थितियों से निपटने की अभियान क्षमता दिखाई:भदौरिया
    प्रतिकूल परिस्थितियों से निपटने की अभियान क्षमता दिखाई:भदौरिया
PTI
PTI
Select
खबर
Skip Navigation Linksहोम खेल
login
  • सबस्क्राइबर
  • यूज़र नाम
  • पासवर्ड   
  • याद रखें
ad
add
add
  • सलामी बल्लेबाज नाकाम, विहारी और पुजारा ने पारी को संभाला

  • विज्ञापन
  • [ - ] फ़ॉन्ट का आकार [ + ]
पीटीआई-भाषा संवाददाता 11:56 HRS IST

हैमिल्टन, 14 फरवरी (भाषा) हनुमा विहारी के शतक और चेतेश्वर पुजारा के 92 रन की मदद से भारत ने न्यूजीलैंड एकादश के खिलाफ अभ्यास मैच के पहले दिन शुरूआती झटकों से उबरकर पारी को संभाला ।

तीनों विशेषज्ञ सलामी बल्लेबाज मयंक अग्रवाल (एक), पृथ्वी साव (0) और शुभमान गिल (0) तेज और उछालभरी पिच पर नाकाम रहे ।

कप्तान विराट कोहली ने अभ्यास मैच की बजाय नेट अभ्यास को तरजीह दी । भारतीय टीम सिर्फ 263 रन बना सकी और विहारी (101 रिटायर्ड) तथा पुजारा को छोड़कर कोई बल्लेबाज 20 रन भी नहीं बना सका ।

तीनों विशेषज्ञ सलामी बल्लेबाज बुरी तरह नाकाम रहे । साव और गिल अतिरिक्त उछाल का सामना नहीं कर पाये जबकि अग्रवाल सीम के शिकार हुए ।

न्यूजीलैंड के तेज गेंदबाज स्काट कुग्लेन ने 40 रन देकर तीन विकेट लिये और भारत को अच्छी शुरूआत नहीं करने दी ।

कुग्लेन ने साव को शरीर पर आती गेंद डालकर शार्टलेग में रचिन रविंद्र के हाथों कैच आउट कराया ।

अग्रवाल ने विकेट के पीछे डेन क्लीवेर को कैच थमाया । वहीं कोहली की गैर मौजूदगी में चौथे नंबर पर आये गिल ने गली में कैच दिया । उस समय भारत का स्कोर पांच रन पर तीन विकेट था ।

अजिंक्य रहाणे (18) पहले घंटे में ही अपना विकेट गंवा बैठे । इसके बाद विहारी और पुजारा ने 195 रन की साझेदारी की ।

कुग्लेन और ब्लेयर टिकनेर का पहला स्पैल निकल जाने के बाद दूसरे और तीसरे सत्र में उन्होंने आराम से बल्लेबाजी की ।

पुजारा ने स्पिनर ईश सोढी को लांग लेग के ऊपर दक्का लगाया जबकि विहारी ने बायें हाथ के स्पिनर रविंद्र को तीन चौके जड़े ।

पुजारा आखिरी सत्र में गिब्सन का शिकार हुए जबकि विहारी ने इस बीच अपना शतक पूरा किया ।

भारत ने आखिरी छह विकेट 30 रन के भीतर गंवाये । ऋषभ पंत एक बार फिर गैर जिम्मेदाराना शाट खेलकर सोढी की गेंद पर एक्स्ट्रा कवर में कैच देकर लौटे ।

  • अपनी टिप्पणी पोस्ट करे ।
  • इस खण्ड में