31 Mar 2020, 12:24 HRS IST
  • प्रधानमंत्री ने कोरोना वायरस के मद्देनजर 21 दिनों के राष्ट्रव्यापी लॉकडालन की घोषणा की
    प्रधानमंत्री ने कोरोना वायरस के मद्देनजर 21 दिनों के राष्ट्रव्यापी लॉकडालन की घोषणा की
    कोरोना वायरस के मद्देनजर नयी दिल्ली में लोग एहतियात बरतते हुये
    कोरोना वायरस के मद्देनजर नयी दिल्ली में लोग एहतियात बरतते हुये
    चीन के वुहान शहर में कोरोना वायरस की जांच करते चिकित्साकर्मी
    चीन के वुहान शहर में कोरोना वायरस की जांच करते चिकित्साकर्मी
    पूर्व प्रधान न्यायाधीश रंजन गोगोई ने राज्यसभा की सदस्यता की शपथ ली
    पूर्व प्रधान न्यायाधीश रंजन गोगोई ने राज्यसभा की सदस्यता की शपथ ली
PTI
PTI
Select
खबर
Skip Navigation Linksहोम अर्थ
login
  • सबस्क्राइबर
  • यूज़र नाम
  • पासवर्ड   
  • याद रखें
ad
add
add
  • पांच अरब डॉलर की अर्थव्यवस्था का लक्ष्य कुछ ज्यादा महत्वाकांक्षी: नीति आयोग का अधिकारी

  • विज्ञापन
  • [ - ] फ़ॉन्ट का आकार [ + ]
पीटीआई-भाषा संवाददाता 22:21 HRS IST

कोलकाता, 24 फरवरी (भाषा) नीति आयोग की एक अधिकारी ने सोमवार को कहा कि 2024-25 तक भारत को 5,000 अरब डॉलर की अर्थव्यवस्था बनाने का लक्ष्य कुछ अधिक ही महत्वाकांक्षी लगता है। उन्होंने कहा कि यह लक्ष्य तय करने का मकसद देश के आर्थिक प्रदर्शन के मानदंडों को ऊंचा करना है।

नीति आयोग में वित्तीय समावेश पर गठित समिति की चेयरपर्सन बिंदु डालमिया ने कहा, ‘‘फिलहाल 5,000 अरब डॉलर की अर्थव्यवस्था का लक्ष्य एक मंशा है जो कुछ ज्यादा महत्वाकांक्षी लगता है।’’

उन्होंने यहां एक कार्यक्रम में कहा कि भारत फिलहाल 5-6 प्रतिशत जीडीपी वृद्धि दर के दायरे में ‘फंसा’ है।

डालमिया ने कहा कि 2024 तक 5,000 अरब डॉलर या 2030 तक 10 अरब डॉलर की अर्थव्यवस्था का लक्ष्य हासिल करने के लिये देश को अगले 10 साल तक बाजार मूल्य पर सालाना 11.5 प्रतिशत की दर से तथा वास्तविक आधार पर 7.5 प्रतिशत की दर से वृद्धि हासिल करनी होगी। फिलहाल अर्थव्यवस्था का आकार 2900 अरब डॉलर है।

उन्होंने कहा, ‘‘मौजूदा स्तर से वास्तविक आधार पर करीब 8 प्रतिशत की वृद्धि दर असंभव नहीं है। लेकिन इसे हासिल करना आसान भी नहीं है।’’

  • अपनी टिप्पणी पोस्ट करे ।