31 Mar 2020, 12:42 HRS IST
  • प्रधानमंत्री ने कोरोना वायरस के मद्देनजर 21 दिनों के राष्ट्रव्यापी लॉकडालन की घोषणा की
    प्रधानमंत्री ने कोरोना वायरस के मद्देनजर 21 दिनों के राष्ट्रव्यापी लॉकडालन की घोषणा की
    कोरोना वायरस के मद्देनजर नयी दिल्ली में लोग एहतियात बरतते हुये
    कोरोना वायरस के मद्देनजर नयी दिल्ली में लोग एहतियात बरतते हुये
    चीन के वुहान शहर में कोरोना वायरस की जांच करते चिकित्साकर्मी
    चीन के वुहान शहर में कोरोना वायरस की जांच करते चिकित्साकर्मी
    पूर्व प्रधान न्यायाधीश रंजन गोगोई ने राज्यसभा की सदस्यता की शपथ ली
    पूर्व प्रधान न्यायाधीश रंजन गोगोई ने राज्यसभा की सदस्यता की शपथ ली
PTI
PTI
Select
खबर
Skip Navigation Linksहोम अर्थ
login
  • सबस्क्राइबर
  • यूज़र नाम
  • पासवर्ड   
  • याद रखें
ad
add
add
  • ट्रंप ने भारतीय उद्योग को दिया निवेश का न्यौता, कायदे-कानून को सुगम बनाने का किया वादा

  • विज्ञापन
  • [ - ] फ़ॉन्ट का आकार [ + ]
पीटीआई-भाषा संवाददाता 19:9 HRS IST

नयी दिल्ली, 25 फरवरी (भाषा) अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने मंगलवार को भारतीय उद्योग को अपने देश में और अधिक निवेश करने का न्यौता दिया। साथ ही कारोबार से जुड़े कायदे-कानून के अंकुश को और कम करने का वादा किया। ट्रंप सरकार अमेरिकी अर्थव्यवस्था को गति देने के लिये और अधिक वैश्विक निवेश आकर्षित करना चाहती है।



भारतीय उद्योगपतियों के साथ बैठक में उन्होंने अमेरिका में निवेश के लिये नियमन और बेहतर बनाने का आश्वासन दिया।

इस बैठक में रिलायंस इंडस्ट्रीज के चेयरमैन मुकेश अंबानी, महिंद्रा समूह के चेयरमेन आनंद महिंद्रा, टाटा संस के चेयरमैन एन चंद्रशेखरन और आदित्य बिड़ला समूह के चेयरमैन कुमार मंगलम बिड़ला जैसे भारत के दिग्गज उद्यमी शामिल थे।

भारतीय उद्याग जगत ने अमेरिकी राष्ट्रपति को वहां हो रहे अपने कारोबार और निवेश के बारे में जानकारी दी।

उन्होंने कहा, ‘‘मैं आप सभी को धन्यवाद देना चाहता हूं। आपकी सफलता पर बधाई। उम्मीद है कि आप अमेरिका आएंगे तथा और निवेश करेंगे। मैं इस निवेश को अरब डॉलर के रूप में नहीं देखता बल्कि रोजगार सृजन के रूप में देखता हूं...।’’

उद्योग जगत ने जब कहा कि अमेरिका में खासकर प्रशासनिक और विधायी माहौल में नियामकीय चुनौतियों बनी हुई हैं, ट्रंप ने कहा, ‘‘कुछ नियमनों को सांविधिक प्रक्रिया से हटाया जाना है...हम कई सारे नियमन को समाप्त करने जा रहे हैं...आपको अंतर दिखेगा और आप इसे अच्छा पाएंगे।’’

उन्होंने अमेरिका तथा भारत की कंपनियों को एक-दूसरे देश में निवेश करने की जरूरत है। उन्होंने कहा कि सरकारें रोजगार सृजन में केवल सहायता कर सकती हैं और वह निजी उद्योग है जो वास्तव में नौकरियां देता है।

ट्रंप ने कहा कि वह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ मिलकर काम कर रहे हैं। ‘‘हम यहां रोजगार सृजित कर रहे हैं और वह आपके जरिये वहां रोजगार सृजित कर रहे हैं।’’

मोदी के बारे में उन्होंने कहा, ‘‘किसी ने कहा है कि वे अच्छे इंसान है और मेरे हिसाब से वास्तव में ऐसा है। वह वास्तव में वह कड़क नेता हैं लेकिन साथ ही अच्छे इंसान भी हैं। वह शानदार काम कर रहे हैं।’’

उन्होंने अपनी भारत यात्रा के दूसरे दिन यहां उद्यमियों की बैठक में कहा कि भारत के साथ व्यापार समझौता पर काम हो रहा है। हालांकि उन्होंने इसके बारे में कोई ब्योरा साझा नहीं किया। भारत यात्रा के बारे में राष्ट्रपति ने कहा, ‘‘यहां आना मेरे लिये सम्मान की बात है। हमने भारत के साथ व्यापार की काफी बात की है। वे हमसे 3 अरब डॉलर मूल्य का हेलीकाप्टर खरीदेंगे।’’ ट्रंप ने दावा किया कि वह आगामी अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव जीतने जा रहे हैं और इससे बाजार में उछाल आएगा। उनकी सरकार ने अर्थव्यवस्था, स्वास्थ्य और सैन्य क्षेत्र के लिये काफी कुछ किया है।

अमेरिकी राष्ट्रपति ने कहा कि उनकी अगुवाई में अमेरिकी अर्थव्यवस्था तेजी से बढ़ी है और जितनी अच्छी है स्थिति अभी है, वैसी कभी नहीं थी।

  • अपनी टिप्पणी पोस्ट करे ।