21 Sep 2020, 01:10 HRS IST
  • संक्रमण से बचाव के दिशा-निर्देशों का पालन करिए: मोदी
    संक्रमण से बचाव के दिशा-निर्देशों का पालन करिए: मोदी
    राष्ट्रपति ने हरसिमरत कौर बादल का इस्तीफा किया स्वीकार
    राष्ट्रपति ने हरसिमरत कौर बादल का इस्तीफा किया स्वीकार
    रास में की गई कोरोना योद्धाओं को वीरता पुरस्कार देने की मांग
    रास में की गई कोरोना योद्धाओं को वीरता पुरस्कार देने की मांग
    आईपीएल के दौरान सट्टेबाजी पर नजर रखेगा स्पोर्टराडार
    आईपीएल के दौरान सट्टेबाजी पर नजर रखेगा स्पोर्टराडार
PTI
PTI
Select
खबर
Skip Navigation Linksहोम विदेश
login
  • सबस्क्राइबर
  • यूज़र नाम
  • पासवर्ड   
  • याद रखें
ad
add
add
  • न्यूजीलैंड में पिछले 100 दिन में घरेलू स्तर पर संक्रमण का कोई मामला नहीं आया सामने

  • विज्ञापन
  • [ - ] फ़ॉन्ट का आकार [ + ]
पीटीआई-भाषा संवाददाता 11:45 HRS IST

वेलिंगटन, नौ अगस्त (एपी) जब पूरी दुनिया कोरोना वायरस वैश्विक महामारी से निपटने के लिए जूझ रही है और वैश्विक अर्थव्यवस्था लड़खड़ा गई है, ऐसे में न्यूजीलैंड एक मिसाल है, जहां पिछले 100 में घरेलू स्तर पर संक्रमण का एक भी मामला सामने नहीं आया है।

न्यूजीलैंड में मार्च के अंत में सख्ती से लॉकडाउन लागू कर संक्रमण को पूरी तरह काबू कर लिया गया था। उस समय देश में मात्र 100 लोग संक्रमित थे। देश में रविवार को घरेलू स्तर पर संक्रमण का एक भी मामला सामने नहीं आने के 100 दिन पूरे हो गए।

पिछले तीन महीने से देश में केवल वे कुछेक लोग ही संक्रमित पाए गए हैं, जो विदेशों से लौट रहे हैं और उन्हें सीमा पर ही पृथक-वास में भेज दिया गया है।

‘यूनिवर्सिटी ऑफ ओटागो’ में महामारी विशेषज्ञ प्रोफेसर माइकल बेकर ने कहा, ‘‘यह अच्छे विज्ञान एवं बेहतरीन राजनीतिक नेतृत्व का कमाल है। यदि आप दुनियाभर में देखें, तो जिन देशों ने संक्रमण को काबू पाने में सफलता हासिल की है, वहां आमतौर पर इन दोनों चीजों का संगम है।’’

न्यूजीलैंड की प्रधानमंत्री जैसिंडा अर्डर्न के नेतृत्व की चौतरफा प्रशंसा हो रही है। उन्होंने लॉकडाउन में लोगों को रोज स्थिति की जानकारी दी और सख्ती से लॉकडाउन का पालन कर संक्रमण से निपटने का भरोसा दिलाया।

देश में अब तक संक्रमण के करीब 1,500 मामले सामने आए हैं और इनमें से 22 लोगों की मौत हुई है।

एपी सिम्मी मानसी मानसी 0908 1142 वेलिंगटन

  • अपनी टिप्पणी पोस्ट करे ।
  • इस खण्ड में