21 Oct 2020, 10:2 HRS IST
  • न्यायाधीशों को निडर होकर लेने चाहिए निर्णय: न्यायमूर्ति एन.वी. रमण
    न्यायाधीशों को निडर होकर लेने चाहिए निर्णय: न्यायमूर्ति एन.वी. रमण
    गोयल को मिला उपभोक्ता मामले, खाद्य और सार्वजनिक वितरण मंत्रालय
    गोयल को मिला उपभोक्ता मामले, खाद्य और सार्वजनिक वितरण मंत्रालय
    पीआईएल:सुशांत मामले में अर्णब की रिपोर्टिंग भ्रामक होने का दावा
    पीआईएल:सुशांत मामले में अर्णब की रिपोर्टिंग भ्रामक होने का दावा
    प्रतिकूल परिस्थितियों से निपटने की अभियान क्षमता दिखाई:भदौरिया
    प्रतिकूल परिस्थितियों से निपटने की अभियान क्षमता दिखाई:भदौरिया
PTI
PTI
Select
खबर
Skip Navigation Linksहोम खेल
login
  • सबस्क्राइबर
  • यूज़र नाम
  • पासवर्ड   
  • याद रखें
ad
add
add
  • आईपीएल की संदिग्ध गेंदबाजी एक्शन समिति ने नारायण के एक्शन को सही पाया

  • विज्ञापन
  • [ - ] फ़ॉन्ट का आकार [ + ]
पीटीआई-भाषा संवाददाता 14:19 HRS IST

अबु धाबी, 18 अक्टूबर (भाषा) कोलकाता नाइट राइडर्स के वेस्टइंडीज के स्पिनर सुनील नारायाण के गेंदबाजी एक्शन को रविवार को इंडियन प्रीमियर लीग की संदिग्ध गेंदबाजी एक्शन समिति ने पाक साफ करार दिया। संदिग्ध गेंदबाजी एक्शन के लिए नारायण की पिछले हफ्ते शिकायत की गई थी।

पिछले शनिवार को किंग्स इलेवन पंजाब के खिलाफ नाइट राइडर्स के मुकाबले के दौरान नारायण की शिकायत की गई और अगर ऐसा एक बार फिर होता तो उन्हें लीग में गेंदबाजी से प्रतिबंधित कर दिया जाता।

खिलाड़ी और फ्रेंचाइजी को उस समय राहत मिली जब आईपीएल की समिति ने उनके गेंदबाजी एक्शन को पाक साफ पाया।

आईपीएल ने बयान में कहा, ‘‘कोलकाता नाइट राइडर्स के खिलाड़ी सुनील नारायण के गेंदबाजी एक्शन को आईपीएल की संदिग्ध गेंदबाजी एक्शन समिति ने पाक साफ पाया है।’’

शिकायत होने के बाद नारायण को आईपीएल चेतावनी सूची में रखा गया था।

नाइट राइडर्स ने विशिष्ट समिति से नारायण के एक्शन के आधिकारिक आकलन का आग्रह किया था और पीछे और साइड के कोण से उनके एक्शन की स्लो मोशन फुटेज भी सौंपी थी।

उन्होंने कहा, ‘‘समिति ने नारायण के एक्शन की फुटेज की सभी गेंदों की सतर्कता से समीक्षा की और इस निष्कर्ष पर पहुंची कि ऐसा लगता है कि उनकी कोहनी स्वीकृत सीमा के अंदर ही मुड़ती है। ’’

बयान के अनुसार, ‘‘समिति ने साथ ही कहा कि नारायण आईपीएल 2020 के मैचों में उसी एक्शन के साथ गेंदबाजी करेंगे जिसकी वीडियो फुटेज समिति को सौंपी गई।’’

इस 32 साल के क्रिकेटर को अब आईपीएल की संदिग्ध एक्शन चेतावनी सूची से हटा दिया गया है।

नारायण को 2015 में अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में गेंदबाजी से निलंबित कर दिया गया था जब अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद को उनका गेंदबाजी एक्शन अवैध लगा था। लेकिन 2016 में उन्हें सुधारवादी एक्शन के साथ खेल के सभी प्रारूपों में गेंदबाजी की स्वीकृति दी गई।

पाकिस्तान सुपर लीग 2018 के दौरान भी नारायण के एक्शन की शिकायत हुई लेकिन अंतत: यह सही पाया गया।

  • अपनी टिप्पणी पोस्ट करे ।
  • इस खण्ड में